अबू धाबी में संदिग्ध ड्रोन हमले में दो भारतीयों समेत तीन लोगों की मौत, छह घायल

अबू धाबी में संदिग्ध ड्रोन हमले में तीन लोगों की मौत हुई है. दो लोग भारतीय मूल के हैं. एक पाकिस्तानी नागरिक है. सऊदी की सरकारी समाचार एजेंसी ने यह जानकारी दी है. खबरों के मुताबिक हूती विद्रोहियों ने अबू धाबी में हमला किया है. हालांकि, अबू धाबी पुलिस ने इस संबंध में विस्तार से जानकारी नहीं दी है.

अबू धाबी पुलिस ने कहा कि संदिग्ध ड्रोन हमले में अबू धाबी में तीन तेल टैंकरों में विस्फोट हुआ. धमाके में तीन लोग मारे गए और छह घायल हो गए. अबू धाबी पुलिस ने मृतकों की पहचान दो भारतीय नागरिकों और एक पाकिस्तानी के रूप में की है. घायलों की पहचान नहीं हुई है. पुलिस ने कहा कि लोग मामूली रूप से चोटिल हुए हैं. पुलिस ने बताया कि जांच की जा रही है.

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार, एक ओर जहां अबू धाबी पुलिस ने संदिग्ध ड्रोन हमले पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है, तो दूसरी ओर यमन के हूती विद्रोहियों ने हमले की जिम्मेदारी ली है. ईरानी समर्थित हूती विद्रोहियों ने कई हमले करने का दावा किया है, लेकिन यूएई के अधिकारियों ने इनकार किया है.

गौरतलब है कि हाल ही में अमीरा केत ध्वज वाले जहाज को हूती विद्रोहियों ने अपने कब्जे में ले लिया था. अबू धाबी ने बड़े पैमाने पर अपने सैनिकों को यमन से वापस बुलाया है, लेकिन यूएई पर स्थानीय मिलिशिया का समर्थन करने के आरोप लगे हैं. अरब दुनिया के सबसे गरीब राष्ट्र यमन में कई वर्षों से लगातार संघर्ष हो रहा है.

इससे पहले संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के मुख्य हवाई अड्डा परिसर में विस्फोट की खबर आई. अबू धाबी पुलिस के बयान के अनुसार, अबू धाबी में तीन तेल टैंकरों में विस्फोट हुआ. आशंका ड्रोन से हमला किए जाने की जताई गई. अबू धाबी पुलिस ने कहा है कि हवाई अड्डा परिसर में लगी आग बहुत मामूली है. आग अबू धाबी के मुख्य अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा एक्सटेंशन में लगी. यह अभी निर्माणाधीन है. अबू धाबी की सरकारी तेल कंपनी- ADNOC ने भी भंडारण परिसर के पास तीन पेट्रोलियम टैंकरों में विस्फोट की सूचना दी.

अबू धाबी पुलिस ने कहा, प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि छोटी उड़ने वाली वस्तु, जो ड्रोन हो सकता है, अबू धाबी में दो अलग-अलग क्षेत्रों में गिरे और विस्फोट के बाद आग लगी. पुलिस ने कहा कि विस्फोट से बड़ा नुकसान नहीं हुआ है.

इससे पहले हूती आंदोलनकारियों ने दावा किया कि उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात पर हमला किया था. हूती आंदोलनकारियों का यह बयान राजधानी अबू धाबी में दो जगहों पर धमाकों के बयान के बाद आया है.

अबू धाबी में अधिकारियों की ओर से जारी बयान के मुताबिक संभवतः ड्रोन का प्रयोग कर दो जगहों पर धमाके किए गए हैं. हूती सैन्य प्रवक्ता याहिया सारे ने कहा कि हूती आंदोलनकारियों ने संयुक्त अरब अमीरात में बड़ा हमला किया है. उन्होंने विवरण नहीं दिया, लेकिन कहा कि जल्द ही एक बयान जारी किया जाएगा.

हूती विद्रोहियों के खिलाफ यूएई

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार, अबू धाबी यूएई सरकार की राजधानी है और यहीं से देश की विदेश नीति का संचालन होता है. संयुक्त अरब अमीरात 2015 की शुरुआत से ही यमन में युद्ध (UAE at war in Yemen since 2015) कर रहा है. यमन सऊदी के नेतृत्व वाले गठबंधन का प्रमुख सदस्य था. यमन की राजधानी पर कब्जा करने वाले ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों के खिलाफ सऊदी गत 6 साल से अभियान चला रहा है. हूती विद्रोहियों ने यमन की राजधानी पर कब्जा करने के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समर्थित यमन सरकार को बेदखल कर दिया था.

(इनपुट-एएनआई-पीटीआई)

spot_img
1,711FansLike
253FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe