बजट सत्र 2022: जानिए तीन तलाक से लेकर टीकाकरण पर संसद में क्या बोले राष्ट्रपति

संसद के बजट सत्र 2022 की शुरुआत सोमवार यानी 31 जनवरी से हो चुकी है और इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद को संबोधित किया. अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति ने आर्थिक और सामाजिक क्षेत्र सरकार की ओर से हासिल की गईं उपलब्धियां बताईं. उनके अभिभाषण में उन्होंने कोरोना काल में हो रहे वैक्सीनेशन, महिला सशक्तिकरण, तीन तलाक, प्रधानमंत्री अन्न कल्याण गरीब योजना, प्रधानमंत्री कृषि योजना समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा की.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि देश आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है. भारत सबसे अधिक वैक्सीन देने वाले देश में शामिल हो गया है. हर घर दस्तक अभियान से वैक्सीनेशन अभियान में तेजी आई है. कोरोना वैक्सीन से देश को कोरोना कवच मिला. राष्ट्रपति ने भारतीय फॉर्मा कंपनियों की सराहना करते हुए कहा कि अब भारत के फॉर्मा कंपनियों के उत्पाद 180 क्षेत्रों में पहुंच रहे हैं. 2014 में देश में 6600 करोड़ का फॉर्मा प्रोडक्ट का निर्यात होता था, अब 11000 करोड़ रुपये हो गया है. उन्होंने उम्मीद जताई कि पीएलआई स्कीम से इस सेक्टर को और विस्तार मिलेगा.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि ई-श्रम पोर्टल से 23 करोड़ से अधिक लोग जुड़ चुके हैं. जनधन आधार मोबाइल के कारण 44 करोड़ों के अकाउंट में पैसा सुरक्षित पहुंचाया गया है. देश में यूपीआई के बढ़ते चलन पर उन्होंने कहा कि पिछले फाइनेशियल ईयर में 8 लाख करोड़ का लेन-देन यूपीआई के जरिये किया गया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रधानमंत्री आवास योजना को सरकार की उपलब्धि बताते हुए कहा कि अब तक 2 करोड़ से अधिक पक्के घर गरीबों को मिले हैं और 1 करोड़ 17 लाख रुपये ग्रामीण क्षेत्रों में घर के लिए दिए जा रहे है. हर घर जल के तहत 6 करोड़ ग्रामीण घरों को नल से जोड़ा गया है. संपत्ति का स्वामित्व योजना के तहत 40 हजार से अधिक प्रॉपर्टी कार्ड जारी किए गए हैं.

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार, महिला सशक्तिकरण पर उन्होंने कहा कि 2021-22 में 65 हजार करोड़ की धनराशि सेल्फ हेल्प ग्रुप्स को दी गई. इसके तहत उन्हें बैंकों से सहायता भी दी जा रही है. उज्जवला, मुद्रा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ भी महिलाओं को मिल रहा है. राष्ट्रपति ने कहा कि महिलाओं को सशक्त करने के उद्देश्य से लड़कियों की शादी की उम्र 21 साल करने का प्रस्ताव संसद में रखा गया है. इसके अलावा तीन तलाक की कुप्रथा रोकने के लिए कानून बनाए गए हैं. उन्होंने कहा कि 2014 के बाद से 4.5 करोड़ अल्पसंख्यकों को छात्रवृति दी गई. 33 सैनिक स्कूलों में बालिकाओं को प्रवेश दिया जा रहा है. एनडीए में भी लड़कियों की भागीदारी हो रही है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि सरकार ने तीन तलाक को कानूनन अपराध घोषित कर समाज को कुप्रथा से मुक्त करने की शुरुआत की है. मुस्लिम महिलाओं पर, केवल मेहरम के साथ ही हज यात्रा करने जैसे प्रतिबंधों को हटाया गया है.

टोक्यो ओलंपिक और पैरा ओलंपिक में भारत के प्रर्दशन को भी राष्ट्रपति ने सराहा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों की मदद से देश में खेलो इंडिया स्पोर्टस स्थापना की जा रही है. दिव्यांग जनों के लिए समानता और अवसर प्रदान करने के लिए सुगम्य भारत अभियान के तहत प्रदान किए जा रहे हैं. 25 लाख दिव्यांगों को उपकरण दिए गए और 4000 दिव्यांगों में अंग इम्पलांट किए गए.

अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति ने भारत में स्टार्ट अप की स्थिति के लिए सरकार की सराहना की. उन्होंने कहा कि 2016 के बाद से 56 सेक्टर में 60 हजार स्टार्ट अप बने , जिससे युवाओं को रोजगार मिला. उन्होंने कहा कि कोरोना के दौर में 40 यूनीकार्न स्टार्ट अप अस्तित्व में आए.

राष्ट्रपति ने और क्या कहा

  • भारत में इंटरनेट की कीमत कम है, इसका लाभ नौजवानों को मिल रहा है. 5जी को लेकर भी काम हो रहा है. कई सेक्टरों में स्टार्ट इंटेलिक्चेुअल प्रॉपर्टी प्रोग्राम चलाए गए, इसके तहत 6000 पेटेंट आवेदन आए.
  • भारत सर्वाधिक तेजी से अधिक विकसित होने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है. भारत में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ पहुंच गया है. भारत का विदेश मुद्रा भंडार 630 बिलियन डॉलर से ऊपर पहुंच चुका है. 2021 में अप्रैल से दिसंबर तक 22 लाख करोड़ से अधिक मूल्य के सामानों का निर्यात किया गया.
  • भारत विश्व में दूसरा मोबाइल फोन निर्माता के तौर पर उभरा है. वस्त्र उद्योग के 4500 करोड़ का निवेश किए जा रहे हैं. इससे देश में टेक्स्टसाइल चेन तैयार होगी. सूक्षम और लघु उद्योग एमएसएमई के लिए 3 लाख करोड़ के फ्री लोन की व्यवस्था की गई. योजना से 13.5 यूनिटों को लाभ मिला. एमएसएमई की नई परिभाषा से छोटे उद्योगों को मदद मिली है.
  • खादी की सफलता का उल्लेख करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि 2014 की तुलना में खादी की बिक्री 3 गुना बढ़ी है.

ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों के निर्माण पर पीएम सड़क योजना के तहत 100 किलोमीटर सड़क रोजाना बनाए गए. नेशनल हाईवे तक 2014 में 90 हजार किलोमीटर था, अब 1,40000 किमी हो गई है. भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत 23 एक्सप्रेस वे और कॉरिडोर पर काम किया जा रहा है. बीआरओ ने ओबलिंगा दर्रा पर विश्व के सबसे ऊंचाई पर सड़क बनाए हैं. पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए 11 नई मेट्रो लाइन पर काम हो रहा है जबकि 21 ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाए जा रहे हैं. सागरमाला प्रोजेक्ट के तहत 80 परियोजनाओं पर काम कर चल रहा है. 24 राज्यों में 111 जलमार्ग घोषित किए गए.

  • राष्ट्रपति ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में मेक इन इंडिया पर जोर दिया जा रहा है. हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के साथ 83 हेलीकॉप्टर बनाने के लिए समझौते किए गए हैं.
  • राजनयिक संबंधों पर उन्होंने कहा कि समुद्री सुरक्षा के विषय में संयुक्त राष्ट्र में चर्चा हुई. अफगानिस्तान की हालात पर उन्होंने कहा कि ऑपरेशन देवी शक्ति के तहत काबुल से हिंदू और सिख वहां से लाए गए. मानवता की दृष्टि से अफगानिस्तान को दवा और खाद्यान्न दिए जा रहे हैं.
  • राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में कहा कि भारत 2030 तक कार्बन उत्सर्जन में कमी करेगा. 2070 तक जीरो उत्सर्जन के लक्ष्य को हासिल किया जाएगा. वन वर्ल्ड और वन ग्रिड प्रोजेक्ट की पहल की गई है. कोलकाता की दुर्गा पूजा, रामप्पा मंदिर को यूनेस्को, भारत की धरोहर वापस लाई जा रही है.

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार,आध्यात्मिक विरासत को भी समृद्ध किया जा रहा है. आजादी के अमृत काल में एक भारत और श्रेष्ठ भारत के तहत पीछे छूटे हुए लोगों के लिए काम किया जा रहा है. जम्मू कश्मीर में सात मेडिकल कॉलेज और दो एम्स, दो आईआईटी पर काम चल रहा है, लद्दाख में सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाई जा रही है. नॉर्थ-ईस्ट में रेल और हवाई कनेक्टिविटी का सपना साकार हो रहा है. नॉर्थ के सारी राजधानी रेल कनेक्टिविटी से जुड़ गए हैं.

spot_img
1,710FansLike
250FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe