हिजाब पर आज सुनवाई करेगा कर्नाटक हाईकोर्ट, प्रतिबंध के विरोध में दायर हुई थी याचिका

कर्नाटक हाई कोर्ट (Karnataka High Court) राज्य के कई जूनियर कॉलेजों में हिजाब प्रतिबंध के खिलाफ याचिका पर आज सुनवाई करेगा. कर्नाटक में हिजाब पहनकर कक्षा में प्रवेश करने पर रोक लगा दी गई है, लेकिन मुस्लिम लड़कियों का एक गुट कॉलेज में हिजाब पहनने के अपने फैसले पर अड़ा हुआ है. कर्नाटक शिक्षा विभाग ने एक निर्देश जारी कर सभी सरकारी स्कूलों को राज्य सरकार द्वारा घोषित ड्रेस कोड का पालन करने को कहा है. यही नहीं, यह भी कहा गया है कि प्राइवेट स्कूल के छात्र भी स्कूल प्रबंधन द्वारा तय की गई ड्रेस का पालन करेंगे.

वहीं, आज उडुपी के महात्मा गांधी मेमोरियल कॉलेज में हिजाब और भगवा पगड़ी पहने छात्रों ने नारेबाजी की. जिस वजह से विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया. बता दें, राज्य में हिजाब विवाद को लेकर कई घटनाएं हुई हैं. मुस्लिम छात्राओं को हिजाब में कॉलेजों या कक्षाओं में जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है. जबकि हिजाब के जवाब में हिंदू छात्र भगवा शॉल पहनकर शैक्षणिक संस्थानों में आ रहे हैं. यह मुद्दा जनवरी में उडुपी के एक सरकारी महाविद्यालय से शुरू हुआ था. यहां छह छात्राएं निर्धारित ड्रेस कोड का उल्लंघन कर हिजाब पहनकर कक्षाओं में आई थीं. इसके बाद इसी तरह के मामले कुंडापुर और बिंदूर के कुछ अन्य कॉलेजों से भी आए.

कर्नाटक में हिजाब विवाद ने अब राजनीतिक रंग ले लिया है. जहां कांग्रेस नेताओं ने हिजाब का समर्थन किया तो वहीं सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कहा कि वह शैक्षणिक संस्थानों का ‘तालिबानीकरण’ नहीं होने देगी. बीजेपी ने हिजाब को धार्मिक प्रतीक बताते हुए शैक्षणिक संस्थानों द्वारा पालन किए जाने वाले पोशाक से संबंधित नियमों का समर्थन किया है, वहीं विपक्षी दल कांग्रेस मुस्लिम लड़कियों के समर्थन में सामने आई है. कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने शैक्षणिक संस्थानों में हिजाब पहनने के अधिकार पर मुस्लिम लड़कियों का समर्थन किया है. उन्होंने बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर हिजाब के नाम पर पूरे राज्य में सांप्रदायिक विद्वेष पैदा करने की कोशिश करने का आरोप लगाया.

सिद्धरमैया ने कहा कि हिजाब पहनने वाली छात्राओं को स्कूल में प्रवेश करने से रोकना उनके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है. वहीं, BJP की प्रदेश इकाई प्रमुख नलिन कुमार कटील ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा व्यवस्था का ‘तालिबानीकरण’ करने की अनुमति नहीं देगी. कटील ने कहा, इस तरह की चीजों (कक्षाओं में हिजाब पहनने) की कोई गुंजाइश नहीं है. हमारी सरकार कठोर कार्रवाई करेगी. लोगों को विद्यालय के नियमों का पालन करना होगा. हम (शिक्षा व्यवस्था के) तालिबानीकरण की अनुमति नहीं देंगे..

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक में मुस्लिम छात्राओं के हिजाब पहनने से जुड़े विवाद के बीच शनिवार को कहा कि हिजाब को शिक्षा के रास्ते में लाकर भारत की बेटियों के भविष्य को छीना जा रहा है.

(इनपुट) ईटीवी भारत
spot_img
1,717FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe