ओमिक्रॉन वायरल बुखार की तरह है, सावधानी जरूरी हैं लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है: मुख्यमंत्री योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि ‘ओमिक्रॉन तेजी से फैलता है लेकिन बहुत हल्के लक्षण हैं. वायरस कमजोर हो गया है. यह वायरल बुखार की तरह है लेकिन सावधानी जरूरी हैं. हालांकि, घबराने की जरूरत नहीं है.’

एएनआई से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ‘हम लोगों ने मार्च-अप्रैल 2021 डेल्टा वैरिएंट के वक्त देखा था कि जो लोग इससे संक्रमित होते हैं, उन्हें ठीक होने में 15 से 25 दिनों का समय लगता था. इसके साथ ही उसके बाद पोस्ट कोविड दिक्कतें भी बहुत ज्यादा थीं, लेकिन ओमिक्रॉन के मामले में अब तक ऐसा नहीं है.’

उत्तर प्रदेश में ओमिक्रॉन वैरिएंट के आठ मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, उनमें से चार मरीज ठीक हो चुके हैं. कोरोना वायरस के मामलों की बात करें तो Covid-19 के 552 नए मामले दर्ज किए गए हैं. इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों की कुल संख्या 17 लाख पहुंच गई है. कुल 22,916 लोगों की यूपी में कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है.

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार सोमवार को Omicron मामलों की संख्या बढ़कर 1700 हो गई है. अब तक 639 मरीज इस वैरिएंट से ठीक हो चुके हैं. महाराष्ट्र और दिल्ली ओमिक्रॉन से सर्वाधिक प्रभावित हैं.

पीटीआई के अनुसार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान नए मामलों के मुकाबले ठीक होने वाले मरीजों की संख्या कम रहने से एक्टिव केस में उछाल आया है. देश में एक्टिव केस की संख्या 1,45,582 हो गई है. पिछले 24 घंटे में 10,846 मरीज ठीक हुए हैं. अब तक कुल 3,42,95,407 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके हैं.

मौजूदा वक्त में रिकवरी रेट 98.20 प्रतिशत है. संक्रमण दर की बात की जाए तो दैनिक संक्रमण दर 3.84 प्रतिशत है जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 1.68 फीसदी है.

spot_img
1,717FansLike
247FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe