दिल्ली: जहांगीरपुरी हिंसा मामले में 20 गिरफ्तार, शांति बहाली की कोशिशें तेज

नई दिल्ली: दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा मामले में अब तक कुल 20 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं, कुछ अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया गया है, जिनकी भूमिका को लेकर छानबीन की जा रही है. इस घटना के चलते दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में लगातार पुलिस दोनों समुदायों के लोगों के साथ बैठक कर शांति बनाने की अपील कर रही है.

दिल्ली पुलिस के अनुसार, शनिवार शाम को हनुमान जयंती पर निकाली जा रही शोभायात्रा के दौरान यह उपद्रव हुआ था. इस दौरान दो समुदायों के लोग आपस में भिड़ गए थे. दोनों पक्षों की तरफ से जमकर पथराव किया गया और गोली भी चलाई गई थी. इस घटना में कुल 8 पुलिसकर्मी और एक आम आदमी घायल हुआ था. इन सभी का उपचार बाबू जगजीवन राम अस्पताल में करवाया गया. इस घटना में एक सब इंस्पेक्टर को गोली लगी थी जिसे उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. दिल्ली पुलिस ने इस मामले में मामला दर्ज किया है.

इस मामले में पुलिस ने कुल नौ आरोपियों को शुरुआत में गिरफ्तार किया था. उनसे हुई पूछताछ के बाद पांच अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस के अनुसार, अब तक कुल 20 लोग इस मामले में गिरफ्तार किए गए हैं.

जहांगीरपुरी में हुए हिंसा के बाद से दिल्ली के विभिन्न इलाकों में पुलिस अमन कमेटी के साथ बैठक कर रही है. दोनों समुदायों के लोगों के साथ बातचीत कर शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है. उन क्षेत्रों में खासतौर से पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है, जहां पर दोनों समुदाय के लोग रहते हैं. पुलिस का कहना है कि जहांगीरपुरी में भी फिलहाल शांति बनी हुई है. हालात काबू करने के लिए भारी संख्या में वहां पर पुलिस बल की तैनाती की गई है. इलाके के लोगों के साथ लगातार बैठक कर उन्हें शांति बनाए रखने के लिए कहा जा रहा है.

पुलिस ने अभी तक जिन लोगों को गिरफ्तार किया है उनके नाम अंसार, जाहिद, शहजाद मुख्तार अली, मोहम्मद अली, आमिर, अक्सर, नूर आलम, मोहम्मद असलम, जाकिर, अकरम, इम्तियाज, मोहम्मद अली और अहीर हैं.

वहीं इस मामले में पुलिस पर एक तरफ़ा कार्रवाई करने का आरोप भी लग रहा है और कहा जा रहा है कि सिर्फ मुसलमानों को ही पकड़ पकड़ कर जेलों में डाला ज रहा है. जिन लोगों ने नारे लगाए, मुसलामनों को गालियां दीं और मस्जिद पर चढ़ कर जो लोग भगवा झंडा लगाना चाहते थे उनके खिलाफ पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.

बता दें कि राजधानी में हनुमान जन्मोत्सव दौरान हुई हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस अलर्ट पर है. जगह-जगह सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में दिल्ली के दक्षिण पूर्वी जिले के संवेदनशील इलाकों में भी लगातार पुलिस चौकसी बरत रही है. पुलिस पेट्रोलिंग और ड्रोन कैमरों से निगरानी रख रही है. जिले के जामिया नगर जसोला इलाकों में ड्रोन कैमरे से निगरानी की गई. इसके अलावा अमन कमेटी की मीटिंग भी जिले में की जा रही है.

वहीं, पुलिस संवेदनशील इलाकों में पेट्रोलिंग कर रही है. दिल्ली पुलिस के जवानों के साथ ही अर्धसैनिक बलों के जवान भी तैनात किए गए हैं. जिले भर में तमाम सुरक्षा इंतजाम जहांगीरपुरी हिंसा के बाद किया जा रहा है, ताकि किसी भी अनहोनी को होने से रोका जा सके. आपको बता दें कि शनिवार शाम दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में हनुमान जन्मोत्सव के मौके पर निकाले गए शोभा यात्रा पर पथराव हुआ था. इस हिंसा में आठ पुलिस कर्मी और एक नागरिक सहित नौ घायल हुए हैं. पूरे मामले को लेकर पुलिस जांच में जुटी हुई है. मौके पर बड़े पैमाने पर सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है, स्थिति नियंत्रण में है.

(ईटीवी से इनपुट के साथ)

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe