AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर हमला, 4 राउंड फायरिंग, एक व्यक्ति हिरासत में

लोक सभा सांसद और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की गाडी पर यूपी में फायरिंग की गई जिसमें वह बाल बाल बचे. उन्होंने इसकी जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करके दी.

उन्होंने ट्वीट किया कि ‘कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियाँ चलाई गयी. 4 राउंड फ़ायर हुए. 3-4 लोग थे, सब के सब भाग गए और हथियार वहीं छोड़ गए. मेरी गाड़ी पंक्चर हो गयी, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहाँ से निकल गया. हम सब महफ़ूज़ हैं. अलहमदु’लिलाह.’

ओवैसी ने कार का फोटो लगा कर ट्वीट किया और साफ़ तौर पर देखा जा सकता है कि गोलियां चलने से कार के शीशे टूटे हुए हैं. कार पर दो गोलियां लगी हैं जो साफ़ तौर पर देखा जा सकता है.

यह हादसा तब पेश आया जब एआईएमआईएम चीफ असदु्द्दीन ओवैसी किथौर से दिल्ली के लिए जा रहे थे. एएनआई से बातचीत के दौरान ओवैसी ने बताया कि तकरीबन तीन से चार गोलियां उनकी कार पर दागी गई. जिसकी वजह से उनका टायर पंचर हो गया. जिसके बाद उन्होंने दूसरी व्हीकल से सफर किया.

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ‘हम मोदी सरकार और राज्य सरकार दोनों को कह रहे हैं कि ये इनकी ज़िम्मेदारी है कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए. ये कैसे हो सकता है कि एक सांसद पर 4 राउंड फायरिंग की जाती है.’

उन्होंने कहा कि कुछ देर पहले वहां से एडिशनल एसपी से बात हुई है. उन्होंने कहा है कि एक व्यक्ति पकड़ा गया है, हथियार भी बरामद हुआ है. हमारी चुनाव आयोग से गुजारिश है कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए.

हापुड़ के एसपी दीपक भुकर ने बताया कि ‘असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हमले के बाद पुलिस ने मौके पर तुरंत पहुंचकर मामले में संदिग्ध एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है. हथियार भी बरामद किया गया है. उसका एक साथी भाग गया है, उसकी तलाश की जा रही है.’

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव में इस बार ओवैसी गठबंधन करके 403 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं और जिसकी वजह से वह लोगों के निशाने पर आ गए हैं.

वह इस वक़्त अपने प्रत्याशियों के लिए उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार कर रहे हैं और अपने प्रत्याशियों को जितने के लिए खूब मेहनत कर रहे हैं.

10 मार्च को आएंगे यूपी चुनाव के नतीजे

बता दें कि उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा. यूपी में सात चरणों में 10, 14, 20, 23, 27 और 3 और 7 मार्च को वोट डाले जाएंगे. जबकि वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी. केंद्रीय निर्वाचन आयोग (election commission of India) ने कहा है कि इनडोर चुनावी बैठकों (indoor election meetings) में 500 लोग शामिल हो सकेंगे. चुनावी रैलियों में जनता की संख्या पर निर्वाचन आयोग ने कहा कि रैलियों में 1000 लोगों को अनुमति दी जाएगी. चुनावी रैलियों पर 11 फरवरी तक रोक जारी रहेगी.

10 फरवरी को पहले चरण में पश्चिम यूपी के 11 जिलों की 58 सीटों पर, दूसरा चरण 14 फरवरी को 9 जिलों की 55 सीटों पर, 20 फरवरी को तीसरे चरण में 16 जिलों की 59 सीटों पर मतदान होगा। चौथे चरण में मतदान 23 फरवरी को लखनऊ सहित 9 जिलों की 60 सीटों पर होगा। पांचवे चरण में 27 फरवरी को 11 जिलों की 60 सीटों पर, छठे चरण में 3 मार्च को 10 जिलों की 57 सीटों पर और सातवें और अंतिम चरण का मतदान 7 मार्च को 9 जिलों की 54 सीटों पर किया जाएगा। 17वीं विधानसभा का कार्यकाल (UP Assembly 2022) 15 मई तक है.

spot_img
1,717FansLike
247FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe