Asaduddin Owaisi Attack: दो आरोपी गिरफ्तार, ओवैसी को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान

उत्तर प्रदेश के मेरठ में गुरुवार को ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर हमला करने वाले 2 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वहीं, ओवैसी पर हमले का एक वीडियो सामने आया है. जिसमें हमलावर गोली चलाते दिखाई दे रहे हैं. वहीं, इस हमले के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ओवैसी को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है.

न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से ट्वीट कर जानकारी दी है कि ‘सूत्रों के अनुसार भारत सरकार ने AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी की सुरक्षा की समीक्षा की और उन्हें तत्काल प्रभाव से सीआरपीएफ की जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है.’

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार, हापुड़ एसपी दीपक भुकर ने बताया कि यूपी में चुनाव प्रचार कर दिल्ली लौट रहे एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी के काफिले पर फायरिंग करने के आरोप में 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. दोनों हमलावर दोस्त बताए जा रहे हैं. एक को पुलिस ने घटना के थोड़ी देर बाद पकड़ लिया था. उसकी पहचान सचिन के रूप में हुई है. वह ग्रेटर नोएडा स्थित बादलपुर गांव का रहने वाला है. वहीं, पुलिस ने दूसरे आरोपी को गाजियाबाद जिले के सिहानी गेट थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है. जिसकी पहचान शुभम के रूप में हुई है.

बता दें कि कल फायरिंग होने के बाद ओवैसी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी. उन्होंने ट्वीट किया कि ‘कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियां चलाई गईं. चार राउंड फायरिंग हुई. कुल तीन से चार लोग थे, जो फायरिंग के बाद वहां से फरार हो गए और हथियार वहीं छोड़ गए. फायरिंग में मेरी गाड़ी पंक्चर हो गई, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहां से निकल गया. हम सब महफूज हैं. अलहमदु’लिलाह.’

कल AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि ‘हम मोदी सरकार और राज्य सरकार दोनों को कह रहे हैं कि ये इनकी ज़िम्मेदारी है कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए. ये कैसे हो सकता है कि एक सांसद पर 4 राउंड फायरिंग की जाती है.’

आज AIMIM के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट किया है की ‘अल्लाह (s.w.t) ने मेरी मौत का वक़्त मुक़र्रर रखा है, मैं तुम्हारे मारने से हरगिज़ नहीं मरूंगा.’

वहीं ओवैसी पर फायरिंग के बाद इस घटना की कड़ी निंदा की जा रही है और दोषियों को जल्द से जल्द सजा देने की मांग की जा रही है.

समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है की ‘लोकतंत्र में किसी भी तरह की हिंसा की कोई जगह नहीं होनी चाहिए.

AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष की गाड़ी पर गोली चलने की खबर बेहद दु:खद एवं निंदनीय है.

घटना के जिम्मेदारों पर कठोर कार्रवाई हो.’

कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने इस घटना के बाद ट्वीट किया है कि सांसद असदउद्दीन ओवैसी जी की गाड़ी पर हमले की सूचना मिली है, गृहमंत्री अमित शाह जी लगातार कह रहे हैं कि अपराधी यूपी छोड़ के भाग गये हैं तो क्या ये वाले अपराधी कहीं से आयातित हैं ?
घटना निंदनीय है, चुनावी मौसम में इस हमले की निष्पक्ष जॉंच होनी चाहिये ताकि दोषियों को सज़ा मिल सके.’

वहीं अबू आसिम आज़मी ने ट्ववीट कर सरकार से सवाल किया है कि विचारधाराओं की लड़ाई सिर्फ विचारों से होनी चाहिए।
जब सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर दिन दहाड़े गोलियां चलाई जा सकती है तब ऐसे में राज्य के आम आदमी की सुरक्षा का अंदाज़ा लगाया जा सकता है।
यूपी की कानून व्यवस्था पर अपनी छाती पीटने वाले अमित शाह और योगी आदित्यनाथ इस हमले के जवाब देह है।

मीडिया में चल रही ख़बरों के अनुसार, ओवैसी पर हमला करने वाले दोनों गिरफ्तार आरोपी बीजेपी के कार्यकर्ता बताये जा रहे हैं.

सचिन को बीजेपी पोस्टर पर देखा जा सकता है और शुभम को युपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ देखा जा सकता है. इससे आसानी से समझा जा सकता है कि ये दोनों बीजेपी के ही मेंबर हैं.

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe