‘मुझ पर गोलियां इसलिए चलाई जायेंगी क्योंकि मैं हिस्सेदारी की बात करता हूं’ : असदुद्दीन ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने उत्तर प्रदेश के मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘शमशान-कब्रिस्तान की बात करने वालों! तब तुम कहां थे जब गंगा में लाशें तैर रही थीं, ऑक्सीजन की कमी और उचित स्वास्थ्य सुविधाओं के कारण लाखों लोग दम तोड़ दिए.’

उन्होंने यह बात उत्तर प्रदेश के एक चुनावी रैली में कही. उन्होंने ट्वीट करके इसी बात को कहते हुए एक वीडियो भी डाला है जिसमें वह लोगों से अपने हक़ में वोट डालने की अपील कर रहे हैं.

उन्होंने ने एक और वीडियो में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि ‘अपनी मां के पेट में जब पल कर दुनिया में आते हैं तो अल्लाह ने एक वक़्त मुक़र्रर कर दिया है हर एक का और हम और आप जायंगे इस दुनिया से. मगर याद रखो मैं मौत से नहीं डरता और न ही क़त्ल करने वालों से डरता हूं. न ही तुम्हारी गोलियां मेरी आवाज़ को दबा सकती हैं. उन्होंने कहा कि मुझ पर गोलियां इसलिए चलाई गईं क्योंकि मैं बीजेपी के आंख में आंख डालकर बात करता हूं और आप सब के हक़ के लिए आवाज़ उठाता हूं. मुझे पर गोलियां इसलिए चलाई गईं क्योंकि मैं गरीब अवाम के हक़ का मुतालबा करता हूं. उन्होंने आगे कहा कि मुझ पर गोलियां इसलिए भी चलाई जायेंगी क्योंकि मैं हिस्सेदारी की बात करता हूं.’

अपने ऊपर हुए हमले को लेकर ओवैसी ने कहा- ‘मैं मुख्यमंत्री से कहूंगा कि आप इसकी अच्छे से जांच कराओ, आपकी सरकार में क्रिकेट मैच के बारे में कुछ लिखने पर आपने एनएसए लगा दिया था, आपकी सरकार ने कई दिनों तक लोगों को कस्टडी में रखा. इस मामले में भी आप इंसाफ करो.’

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मेरठ में गुरुवार को असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर 4 राउंड फायरिंग की गई थी जिसके बाद 2 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वहीं, ओवैसी पर हमले का एक वीडियो सामने आया है. जिसमें हमलावर गोली चलाते दिखाई दे रहे हैं. वहीं, इस हमले के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ओवैसी को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है.

उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी कि ‘कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियाँ चलाई गयी. 4 राउंड फ़ायर हुए. 3-4 लोग थे, सब के सब भाग गए और हथियार वहीं छोड़ गए. मेरी गाड़ी पंक्चर हो गयी, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहाँ से निकल गया. हम सब महफ़ूज़ हैं. अलहमदु’लिलाह.’

वहीं दूसरी तरफ सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने फायरिंग मामले पर लोकसभा में बोलते हुए कहा था कि ‘मैं सिक्योरिटी नहीं लूंगा. मुझे जेड कैटेगरी सिक्योरिटी नहीं चाहिए, मुझे A कैटेगरी का शहरी बनाइए ताकि मेरी और आपकी ज़िंदगी बराबर हो… उ.प्र. की जनता गोली चलाने वालों का जवाब बैलेट से देगी, नफरत का जवाब मोहब्बत से देगी.’

लोकसभा में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ‘मैं सरकार से अपील करता हूं कि मुझे Z कैटेगरी सिक्योरिटी नहीं चाहिए. मैं आज़ाद ज़िंदगी गुजारना चाहता हूं… मुझे अपनी आवाज़ उठाना है, सरकार किसी की भी हो उनके खिलाफ बोलना है. अगर गोली लगती है तो मुझे कबूल है.’

10 मार्च को आएंगे यूपी चुनाव के नतीजे

बता दें कि उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा. यूपी में सात चरणों में 10, 14, 20, 23, 27 और 3 और 7 मार्च को वोट डाले जाएंगे. जबकि वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी. केंद्रीय निर्वाचन आयोग (election commission of India) ने कहा है कि इनडोर चुनावी बैठकों (indoor election meetings) में 500 लोग शामिल हो सकेंगे. चुनावी रैलियों में जनता की संख्या पर निर्वाचन आयोग ने कहा कि रैलियों में 1000 लोगों को अनुमति दी जाएगी. चुनावी रैलियों पर 11 फरवरी तक रोक जारी रहेगी.

10 फरवरी को पहले चरण में पश्चिम यूपी के 11 जिलों की 58 सीटों पर, दूसरा चरण 14 फरवरी को 9 जिलों की 55 सीटों पर, 20 फरवरी को तीसरे चरण में 16 जिलों की 59 सीटों पर मतदान होगा। चौथे चरण में मतदान 23 फरवरी को लखनऊ सहित 9 जिलों की 60 सीटों पर होगा। पांचवे चरण में 27 फरवरी को 11 जिलों की 60 सीटों पर, छठे चरण में 3 मार्च को 10 जिलों की 57 सीटों पर और सातवें और अंतिम चरण का मतदान 7 मार्च को 9 जिलों की 54 सीटों पर किया जाएगा। 17वीं विधानसभा का कार्यकाल (UP Assembly 2022) 15 मई तक है.

spot_img
1,717FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe