कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का 58 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली: कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का 58 साल की उम्र में दिल्ली में निधन हो गया. उनके परिवार ने इसकी पुष्टि की है. सीने में दर्द और जिम में वर्कआउट के दौरान गिरने के बाद उन्हें 10 अगस्त को एम्स दिल्ली में भर्ती कराया गया था. वह 42 दिन से अस्पताल में भर्ती थे. राजू श्रीवास्तव शोबिज इंडस्ट्री का जाना माना नाम थे.

उन्होंने कई फिल्मों और शोज में काम किया था. रियलिटी शोज में भी राजू ने पार्टिसिपेट किया था. राजू को पहचान कॉमेडी शो The Great Indian Laughter Challenge से मिली थी. इस शो से मिली सक्सेस के बाद राजू ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा था. राजू श्रीवास्तव एक्टर, कॉमेडियन होने के साथ साथ नेता भी थे. वे बीजेपी से जुड़े थे. राजू का बिना किसी गॉडफादर के इतनी सफलता हासिल करना इंस्पायरिंग है.

ईटीवी भारत की खबर के अनुसार, राजू श्रीवास्तव का जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपूर के उन्नाव में हुआ था. राजू के पिता रमेशचंद्र श्रीवास्तव एक प्रसिद्ध कवि थे. लेकिन राजू को बचपन से ही कॉमेडी का शौक था. वे बचपन से ही मिमिक्री करते थे. एक इंटरव्यू के दौरान राजू श्रीवास्तव ने बताया था कि उन्हें बचपन से ही कॉमेडी करने का शौक था. वो स्कूल में अपनी स्कूल टीचर्स की मिमिक्री किया करते थे. वो पूर्व प्राइम मिनिस्टर इंदिरा गांधी की आवाज भी निकालते थे. यही नहीं, वो बचपन से ही सुनील गावस्कर से मिलने की चाहत भी रखते थे. अपने इसी टैलेंट की वजह से वो स्कूल में 15 अगस्त और 26 जनवरी को होने वाले प्रोग्राम का हिस्सा भी बनते थे. वो खुद आगे आकर स्कूल फंक्शन में अपने नाम लिखवाते थे.

राजू श्रीवास्तव का कहना था कि उन्हें बचपन में क्रिकेट की कॉमेंट्री के लिये बुलाया जाता था. कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव ने बताया था कि उन्हें कॉमेडी का शौक तब से था जब ज्यादा एंटरटेनमेंट चैनल नहीं थे. इंटरव्यू के दौरान राजू श्रीवास्तव ने बताया था कि कॉमेडी करना उनका पैशन था, लेकिन उनके इसी काम से उनके घरवाले काफी परेशान थे. क्योंकि श्रीवास्तव फैमिली में हर कोई पढ़ा-लिखा और सरकारी नौकरी वाला होता था. इसलिये परिवार को लगता था कि वो आगे चलकर क्या करेंगे.

घर में चल रही टेंशन की वजह से राजू सबसे कटे-कटे रहने लगे. इसके बाद उन्होंने कॉमेडी शोज को लेकर जानकारी निकलाना शुरू किया और उन्हें पता चला कि ये तो बेस्ट काम है. राजू श्रीवास्तव ने बताया था कि वो मुंबई आने का श्रेय अपनी मां को देते हैं, क्योंकि उनके तानों की वजह से उन्होंने मुंबई आने का सोचा था.

राजू श्रीवास्तव का कहना था कि उन्हें स्ट्रगल करने का बिल्कुल मलाल नहीं है. कई दिनों तक वो मुंबई में दोस्तों और रिश्तेदारों के घर रहे. पर किसी ना किसी वजह से उनसे घर खाली करने के लिये कहा गया. इस दौरान उनकी दोस्ती जॉनी लीवर से हुई और उन्होंने कहा कि वो उनके घर आकर रहे सकते हैं. हालांकि, राजू कभी उनके घर रहने नहीं गये थे.

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe