बीजेपी में इस्तीफों का दौर जारी, आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी, विधायक मुकेश वर्मा और विनय शाक्य ने दिया इस्तीफा

यूपी में चुनावी बिगुल बजने के बाद से ही बीजेपी में इस्तीफों का दौर जारी हो गया है. मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह चौहान समेत 5 विधायकों के इस्तीफे के बाद अब बीजेपी के तीन और विधायक ने पार्टी छोड़ दी है. आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने भी इस्तीफा दे दिया है.

सूत्रों के अनुसार, उन्होंने अलॉट हुआ सरकारी आवास छोड़ दिया है. साथ ही सरकार की ओर से मिली सुरक्षा भी छोड़ दी है. धर्म सिंह सैनी स्वामी प्रसाद मौर्य के बेहद करीबी माने जाते हैं.

वहीं दूसरी तरफ, भाजपा विधायक मुकेश वर्मा ने भी इस्तीफा दे दिया है. शिकोहाबाद फिरोजाबाद से विधायक हैं. मुकेश वर्मा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से इस्तीफा पत्र शेयर कर इस्तीफे की घोषणा की है.

11 जनवरी को लिखा गया इस्तीफा पत्र आज मुकेश वर्मा ने अपने ट्विटर एकाउंट पर शेयर करते हुए कहा है कि ‘भाजपा सरकार द्वारा 5 वर्ष के कार्यकाल में दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं व जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जो नहीं दी गई व दलित, पिछड़ों किसानों व बेरोजगारों की उपेक्षा की गई. इस कारण मैं भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं’. साथ ही विधायक मुकेश वर्मा ने अपना समर्थन स्वामी प्रसाद मौर्य को दिया है.

ईटीवी भारत की ख़बर के अनुसार, दरअसल, मुकेश वर्मा जिस सीट से बीजेपी विधायक है. उस सीट से कभी मुलायम सिंह यादव भी चुनाव लड़कर विधानसभा में पहुंचे थे. माना जा रहा है कि मुकेश वर्मा समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव से मुलाकात कर चुके हैं और 14 जनवरी को सपा ज्वाइन कर सकते हैं.

वहीं एक और बीजेपी विधायक, औरैया के बिधूना से विधायक विनय शाक्य ने भी दिया इस्तीफा दे दिया है. इन्होंने स्वामी प्रसाद मौर्य का समर्थन किया है. बीजेपी विधायक विनय शाक्य ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को इस्तीफा भेजा है.

बीजेपी विधायक विनय शाक्य ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को भेजे इस्तीफे में कहा है कि ‘भाजपा सरकार द्वारा 5 वर्ष के कार्यकाल में दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं व जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जो नहीं दी गई और न ही उन्हें उचित सम्मान दिया गया. प्रदेश सरकार के ऐसे रवैया के कारण मैं भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं. स्वामी प्रसाद मौर्य शोषित और पीड़ितों की आवाज हैं, वह हमारे नेता हैं. मैं उनके साथ हूं’.

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe