दिल्ली विश्वविद्यालय में शुरू होने जा रहा है अंडरग्रेजुएट दाखिला प्रक्रिया का दूसरा चरण

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय यूजी दाखिले के लिए 26 सितंबर देर शाम अपनी पहली कट ऑफ लिस्ट जारी कर सकता है। इसके साथ ही दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएशन दाखिले का दूसरा चरण शुरू हो जाएगा।

सीयूईटी यूजी की परीक्षाओं में 6 लाख से अधिक छात्रों ने दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिले का विकल्प चुना था। कट ऑफ लिस्ट जारी होने के साथ ही डीयू में दाखिला लेने के इच्छुक छात्र, सीयूईटी यूजी की परीक्षाओं में हासिल स्कोर भी दिल्ली विश्वविद्यालय के एडमिशन पोर्टल पर दर्ज कर सकेंगे। दूसरे चरण में छात्र एडमिशन पोर्टल पर अपनी पसंद के कॉलेज भी चुन सकेंगे।

दिल्ली विश्वविद्यालय के मुताबिक, अंडरग्रेजुएट एडमिशन के लिए 26 सितंबर से शुरू हो रहा यह दूसरा चरण 10 अक्टूबर को पूरा होगा। दिल्ली विश्वविद्यालय का कहना है कि डीयू से संबंधित सभी कॉलेजों में इस वर्ष कॉमन सीट एलोकेशन सिस्टम (सीएसएएस पोर्टल) के माध्यम से तीन चरणों में दाखिला होगा। इसके चलते इस बार दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों का नया सत्र नवंबर से शुरू होने की संभावना है।

पहले चरण में 12 सितंबर से सीएसएएस पोर्टल के जरिए छात्रों का रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुका है। छात्र-छात्राएं अब दूसरे चरण में 26 सितंबर से अपनी पसंद के कोर्स औेर कॉलेज के लिए सीएसएएस पोर्टल के माध्यम से आवेदन कर सकेंगे। इसके साथ ही दिल्ली विश्वविद्यालय अपनी पहली कट ऑफ लिस्ट भी जारी करेगा। इस कट ऑफ लिस्ट के आधार पर छात्रों को विभिन्न कॉलेजों एवं पाठ्यक्रमों में दाखिले मिल सकेंगे।

विश्वविद्यालय के अंतर्गत लगभग 80 विभाग हैं जहां पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री, पीएचडी, सर्टिफिकेट कोर्स, डिग्री कोर्स आदि कराए जाते हैं। इसी तरह से दिल्ली विश्वविद्यालय में तकरीबन 79 कॉलेज है जिनमे स्नातक, स्नातकोत्तर की पढ़ाई होती है। इन कॉलेजों व विभागों में हर साल स्नातक स्तर पर विज्ञान, वाणिज्य व मानविकी विषयों में 70 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं के प्रवेश होते हैं। विश्वविद्यालय का कहना है कि सभी कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले केवल सीयूईटी के स्कोर के आधार पर होंगे। वहीं पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए अलग से प्रवेश परीक्षा ली जा रही है।

गौरतलब है कि कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी यूजी) का रिजल्ट जारी किया जा चुका है। अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए ली गई इन परीक्षाओं में लगभग 20 हजार छात्रों ने 30 विषयों में 100 पर्सेंटाइल स्कोर किया है। इनमें सबसे अधिक अंग्रेजी के 8,236 छात्र हैं। परीक्षा का रिजल्ट जारी करते हुए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बताया कि इन परीक्षाओं में सबसे अधिक 2,92,589 छात्र उत्तर प्रदेश से शामिल हुए दूसरे स्थान पर दिल्ली के 1,86,405 छात्र हैं। वही सबसे कम मेघालय के केवल केवल 583 छात्रों ने यह परीक्षा दी थी।

सीयूईटी यूजी का रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया गया है। छात्र यहां से अपने रिजल्ट को देख और डाउनलोड कर सकते हैं। हालांकि यह सुविधा केवल अगले 90 दिन तक रहेगी।

वहीं सौ प्रतिशत अंक हासिल करने वाले छात्रों की बात की जाए तो अंग्रेजी के बाद सबसे अधिक 2,065 छात्रों ने राजनीति विज्ञान,1,669 छात्रों ने बिजनेस स्टडीज, 1,324 बायोलॉजी और 1,188 छात्रों ने इकोनॉमिक्स में 100 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं।

—आईएएनएस

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe