अब्दुल्लाह आज़म ने बीजेपी गठबंधन के एकमात्र मुस्लिम उम्मीदवार को हराया

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी के जीत के बाद नई सरकार के गठन की तैयारी तेज हो गई है. चुनाव में बीजेपी ने किसी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया. हालांकि, एनडीए खेमे में बीजेपी की सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) ने रामपुर की स्वार सीट से हैदर अली खान उर्फ हमजा मियां को मुस्लिम प्रत्याशी बनाया था.

खास बात यह भी रही कि हैदर अली खान उर्फ हमजा मियां के पिता नावेद मियां खुद कांग्रेस के टिकट पर रामपुर सदर सीट से मोहम्मद आजम खान के खिलाफ मैदान में थे. बता दें कि हैदर अली खान की दादी बेगम नूरबानो रामपुर से कांग्रेस की सांसद रह चुकी हैं.

काजिम अली खान उर्फ नावेद मियां                                 मोहम्मद आजम खान

चुनावी मैदान में एनडीए के उम्मीदवार हैदर अली खान को हार का मुंह देखना पड़ा. उन्हें हराया आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम खान ने.

एनडीए के एकमात्र मुस्लिम उम्मीदवार हमजा मियां को रामपुर के सबसे चर्चित नेता और पूर्व मंत्री आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम खान ने स्वार विधानसभा सीट पर करारी शिकस्त दी. अब्दुल्लाह आजम ने 61 हजार से ज्यादा वोटों से हैदर अली खान को हराया. चुनाव आयोग की वेबसाइट पर दिए गए आंकड़ों के मुताबिक, अब्दुल्लाह आजम को 1,26,162 वोट मिले जबकि हमजा मियां को 65,059 मत हासिल हुए.

सौजन्य: चुनाव आयोग

वहीं, हैदर अली खान उर्फ हमजा मियां के पिता काजिम अली खान उर्फ नावेद मियां को अब्दुल्लाह आजम खान के पिता आज़म खान से रामपुर सदर सीट से हार का सामना करना पड़ा.

रामपुर सदर सीट से मोहम्मद आजम खान को 63,642 वोट मिले हैं. यहां से बीजेपी के अक्षय सक्सेना दूसरे नंबर रहे. अक्षय को यहां से 12762 वोट मिले.

spot_img
1,717FansLike
247FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe