‘हिम्मत है तो एमसीडी चुनाव जीत कर दिखाओ, हम राजनीति छोड़ देंगे:’ अरविंद केजरीवाल का बीजेपी को चैलेंज

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को खुला चैलेंज दिया है. दिल्ली सीएम ने बीजेपी को चैलेंज देते हुए कहा, ‘हिम्मत है तो एमसीडी के चुनाव टाइम पर करवा कर और जीत कर दिखा दो हम राजनीति छोड़ देंगे.’ केजरीवाल बोले कि बीजेपी खुद को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बताती है और ये दिल्ली की एक छोटी सी पार्टी से घबरा गए, दिल्ली के एक छोटे से चुनाव से घबरा गए तुम, क्या हिम्मत है तुम्हारे अंदर, लानत है तुम्हारे ऊपर.’

केजरीवाल ने बीजेपी को ललकारते हुए कहा कि दिल्ली नगर निगम के चुनाव टालना शहीदों का अपमान है जिन्होंने अंग्रेजों को देश से भगाकर देश में जनतंत्र स्थापित करने के लिए कुरबानियाँ दीं थीं. आज ये हार के डर से दिल्ली नगर निगम के चुनाव टाल रहे हैं, कल ये राज्यों और देश के चुनाव टाल देंगे. बीजेपी एमसीडी के चुनाव टाल रही है कि दिल्ली के तीनों निगम एक कर रहे हैं, क्या इस वजह से चुनाव टल सकते हैं? कल ये गुजरात हार रहे होंगे तो क्या ये कह कर टाल सकते हैं कि गुजरात और महाराष्ट्र को एक कर रहे हैं? क्या इसी तरह का कोई बहाना बना कर लोक सभा चुनाव टाले जा सकते हैं?

दिल्ली सीएम ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि आज शहीदी दिवस है. भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु तीनों को आज फांसी पर लटकाया गया था. तीनों ने देश को आजाद कराने के लिए अपनी जान कुर्बान कर दी थी. देश आजाद हुआ, एक संविधान बना, संविधान में जनता को पूरी ताकत दी गई कि जनता अपनी सरकार चुनें और वह सरकार जनता के सपनों को पूरा करे. पिछले कुछ दिनों से जो देखने को मिल रहा है, वह एक तरह से शहीदों के बलिदान का अपमान है. केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार दिल्ली में नगर निगम के चुनाव टलवा रही है.

इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि सब लोग जानते हैं कि इस बार भाजपा का सफाया होने वाला था और अपनी हार से बचने के लिए उन लोगों ने पहले तो स्टेट इलेक्शन कमीशन पर दबाव डालकर चुनाव को टलवाया और अब अमेंडमेंट ला रहे हैं, जिसके जरिए चुनाव को कई महीनों के लिए टाला जा रहा है, यह बेहद दुखदाई है. अगर इस देश के भीतर चुनाव नहीं हुए, तो जनतंत्र कैसे बचेगा, जनता की आवाज कैसे बचेगी. सबसे ज्यादा दुख आज के दिन भगत सिंह की आत्मा को होगा, जिन्होंने फांसी पर चढ़कर देश को आजाद कराया था.

केजरीवाल ने बातचीत के दौरान कहा कि इस दिन के लिए थोड़ी न आजाद कराया था कि सरकार आएगी और चुनाव ही खत्म कर देगी. इस देश के भीतर जनता को बेसिक अधिकार है, सरकार चुनने का. शहीदों की शहादत के साथ खिलवाड़ मत करिए, संविधान के साथ खिलवाड़ मत करिए. आज कह रहे हैं कि हम तीनों नगर निगम को एक करना है, इसलिए हम चुनाव को टाल रहे हैं. क्या इस आधार पर चुनाव टाले जा सकते हैं. मेरी प्रधानमंत्री से हाथ जोड़कर अपील है कि कल बीजेपी या आम आदमी पार्टी रहेगी या नहीं रहेगी, मोदी जी या केजरीवाल रहेंगे या नहीं रहेंगे, यह देश बचना चाहिए. एक छोटे से चुनाव को जीतने के लिए आप इस देश की व्यवस्था के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. यह बिल्कुल मंजूर नहीं है.

दिल्ली के उपराज्यपाल के आदेशानुसार दिल्ली के तीनों नगर निगमों का चुनाव (Delhi Municipal Corporation Elections) अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है. जिस पर दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) बीजेपी को जमकर घेर रही है. आप का दावा है कि बीजेपी उनकी पार्टी से डर रही है, इसलिए उन्होंने चुनाव को टाल दिया. इसलिए इस मसले पर आप और बीजेपी एक-दूसरे के आमने-सामने आ गई है.

कुछ खबरों में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार दक्षिण दिल्ली नगर निगम, उत्तर दिल्ली नगर निगम और पूर्व दिल्ली नगर निगम का विलय करके पुनः दिल्ली नगर निगम (MCD) को स्थापित करना चाहती है. जिससे आप बेहद खफा नजर आ रही है. आप का कहना है कि इससे दिल्ली नगर निगम में सीटों की संख्या कम हो जाएगी जिस कारण एक बार फिर से सभी वार्ड के परिसीमन का कार्य शुरू होगा जो लम्बे समय तक चल सकता है.

(एनडीटीवी से इनपुट के साथ)

spot_img
1,711FansLike
253FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe