भारत ने पाकिस्तान की ओर गलती से दागी मिसाइल, रक्षा मंत्रालय ने अफसोस जाहिर किया

भारत ने स्पष्ट किया है कि उसकी ओर से एक मिसाइल मंगलवार को तकनीकी खराबी की वजह से पाकिस्तान की ओर फायर हो गया था. रक्षा मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि नियमित मेंटेनेंस के दौरान गड़बड़ी के कारण मिसाइल पाकिस्तान में जा गिरी. इस घटना पर हम अफसोस जाहिर करते हैं. भारत ने पूरे मामले में उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं.

ईटीवी भारत खबर के अनुसार, पाकिस्तानी सेना ने एक दिन पहले दावा किया था कि भारत की ओर से एक मिसाइल फायर किया गया. इससे कुछ इलाकों में नुकसान हुआ है. पाकिस्तान के अनुसार, मिसाइल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में गिरा था. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ़्तिख़ार ने कहा कि 9 मार्च को शाम 6.43 मिनट पर भारत की ओर से मिसाइल जैसी एक वस्तु तेज रफ्तार से आई. इसके गिरने से कुछ इलाकों में नुकसान हुआ.

पाकिस्तान ने यह भी बताया है कि नुकसान नॉन मिलिट्री इलाके में हुआ है. हालांकि, इसमें किसी की जान नहीं गई. पाकिस्तान ने यह भी दावा किया कि यह एक सुपरसोनिक मिसाइल था. यह पाक सीमा के 124 किलोमीटर अंदर जाकर गिरा. इसे पाकिस्तान की एयर डिफेंस सिस्टम ने ट्रैक किया था. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने यह भी कहा कि यह मिसाइल बिना वॉर हेड की थी. यानी इसका अर्थ होता है कि इसमें कोई बारूद नहीं था और संभवतः अभ्यास के दौरान यह मिसफायर हो गया.

भारतीय सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान के पास इस तरह की ट्रैकिंग कैपेब्लिटी नहीं है. उसके पास एचक्यू9/P एचआईएमएडीएस (हाई टू मीडियम एयर डिफेंस सिस्टम), जिसे उसने चीन से प्राप्त किया है. पाक आर्मी ने इसे अक्टूबर 2021 में तैनात किया है. चीन ने भी इस सिस्टम को जिनजियांग प्रांत में तैनात कर रखा है, जहां उसने भारत से संभावित खतरे से बचने के लिए लगाया है. यह सिस्टम 100 किमी के रेंज तक टारगेट कर सकता है. यह एयर क्राफ्ट, क्रूज मिसाइल को भेद सकता है.

हालांकि, भारत ने 15 मार्च से 17 मार्च के लिए बंगाल की खाड़ी पर सरफेस टू सरफेस मिसाइट टेस्ट के लिए अलर्ट जारी कर रखा है.

भारतीय सेना ने बताया कि दरअसल, इसे राजस्थान में गिरना था, लेकिन यह पाकिस्तान के मिया चन्नू इलाके में जाकर गिरी.

पीटीआई-भाषा खबर के अनुसार, पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) मोईद युसूफ ने संवेदनशील प्रौद्योगिकी संभालने की भारत की क्षमता पर (Pakistan NSA questions India ability) सवाल उठाया. इस दौरान उन्होंने दुर्घटनावश चली मिसाइल के पाकिस्तान की सीमा में गलती से गिरने की घटना की जांच की भी मांग की.

यूसुफ ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि भारत सरकार ने पाकिस्तान को घटना की जानकारी देने की भी जहमत नहीं उठाई. उन्होंने कहा कि, ‘इससे ऐसी संवेदनशील प्रैाद्योगिकियां संभालने की भारत की क्षमता पर गंभीर सवाल खड़े होते हैं.’ उन्होंने कहा यह भी कहा कि मिसाइल अंतरराष्ट्रीय और घरेलू उड़ान के रास्ते के करीब से गुजरी थी और नागरिकों की सुरक्षा को खतरा था. उन्होंने कहा, ‘इस तरह की लापरवाही और अक्षमता भारतीय हथियार प्रणालियों की सुरक्षा और रक्षा पर सवाल खड़े करती है.’

यूसुफ ने भारत में यूरेनियम चोरी की कई घटनाओं की ओर भी इशारा करते हुए कहा कि ‘हालिया दिनों में यूरेनियम की तस्करी के आरोप में लोगों को गिरफ्तार किया गया.’

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe