‘द कश्मीर फाइल्स’ पर बोले नाना पाटेकर- भारत हिंदू और मुसलमान दोनों का देश, भेदभाव ठीक नहीं

फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिल रही है. बहुत से लोग इस फिल्म को प्रोपोगेंडा बता रहे हैं तो वहीं एक बड़ा तबका है जो इस फिल्म के समर्थन में है.

वहीं दूसरी तरफ बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता नाना पाटेकर ने गुरुवार को कहा है कि भारत हिंदू और मुसलमान दोनों का देश है. ऐसे में समाज में विभाजन और भेदभाव करना ठीक नहीं है.

फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर हो रही बहस के बारे में पूछे जाने पर अभिनेता ने कहा, ‘यह देश हिंदुओं और मुसलमानों- दोनों का ही है और उनके लिए एक साथ रहना आवश्यक है. उन्हें साथ में मिलकर रहना चाहिए. यदि दोनों समुदायों के बीच विभाजन हो रहा है, तो यह ठीक नहीं है.’

हालांकि, नाना पाटेकर ने यह भी कहा कि उन्होंने अभी तक फिल्म नहीं देखी है और वह इस पर कोई टिप्पणी नहीं कर पाएंगे. उन्होंने कहा, लेकिन किसी फिल्म को लेकर विवाद खड़ा करना ठीक नहीं है.

यह फिल्म 1990 में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार के इर्द-गिर्द घूमती है और इसे विवेक अग्निहोत्री द्वारा निर्देशित किया गया है जिन्हें ‘ताशकंद फाइल्स’, ‘हेट स्टोरी’ और ‘बुद्धा इन ए ट्रैफिक जाम’ जैसी फिल्मों के लिए जाना जाता है.

11 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज हुई इस फिल्म में अनुपम खेर, मिथुन चक्रवर्ती, पल्लवी जोशी, दर्शन कुमार और अन्य कलाकार हैं.

फिल्म को उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा, गोवा, हरियाणा, गुजरात और उत्तराखंड सहित कई राज्यों में कर-मुक्त घोषित किया गया है.

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe