IPL 2022: पैट कमिंस की तूफानी पारी, कोलकाता नाइट राइडर्स ने मुंबई इंडियंस को 5 विकेट से हराया

मुंबई: आईपीएल 2022 के 14वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स ने रोमांचक मुकाबले में मुंबई इंडियंस को पांच विकेट से हरा दिया. केकेआर ने मुंबई के 161 रन के स्कोर का पीछा करते हुए 16 ओवर में पांच विकेट खोकर 162 रन बनाया और मैच जीत लिया. केकेआर की ओर से पैट कमिंस ने तूफानी पारी खेली.

पैट कमिन्स ने आक्रामक बल्लेबाजी का अद्भुत नजारा पेश करके 15 गेंदों पर नाबाद 56 रन की रिकॉर्ड पारी खेली जिससे कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने बुधवार को यहां मुंबई इंडियन्स को 24 गेंद शेष रहते हुए पांच विकेट से हराकर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शीर्ष स्थान हासिल किया.

केकेआर शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के नियमित अंतराल में आउट होने के कारण संघर्ष कर रहा था लेकिन कमिन्स ने आते ही सारे समीकरण बदल दिये. उन्होंने अपनी पारी में चार चौके और छह छक्के लगाये और केवल 14 गेंदों पर अर्धशतक पूरा करके आईपीएल में केएल राहुल के पिछले रिकार्ड की बराबरी की. उन्होंने डेनियल सैम्स के एक ओवर में 35 रन बनाये, जो आईपीएल का तीसरा सबसे महंगा ओवर है.

कमिन्स के अलावा सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर (41 गेंदों पर 50 रन, छह चौके, एक छक्का) ने अर्धशतक जमाया जिससे केकेआर ने 162 रन का लक्ष्य 16 ओवर में पांच विकेट खोकर हासिल कर दिया . केकेआर की यह चार मैचों में तीसरी जीत है. मुंबई ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए खराब शुरुआत से उबरकर चार विकेट पर 161 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया था. उसे लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा. मुंबई का स्कोर 15 ओवर के बाद तीन विकेट पर 83 रन था. सूर्यकुमार यादव ( 36 गेंदों पर 52, पांच चौके, दो छक्के) और तिलक वर्मा (27 गेंदों पर नाबाद 38, तीन चौके, दो छक्के) ने चौथे विकेट के लिये 83 रन की साझेदारी की.

मुंबई ने आखिरी पांच ओवर में 78 रन जोड़े जिसमें कीरोन पोलार्ड के पांच गेंदों पर नाबाद 22 रन शामिल हैं. उन्होंने केकेआर के सबसे सफल गेंदबाज कमिन्स (49 रन देकर दो) के पारी के आखिरी ओवर में तीन छक्के लगाये. कमिन्स ने बाद में इसका बदला सैम्स से चुकता किया जिनके एक ओवर में उन्होंने दो चौके और चार छक्के लगाये. इनमें विजयी छक्का भी शामिल है.इससे पहले हालांकि केकेआर के बल्लेबाजों ने लंबे शॉट खेलने के प्रयास में अपने विकेट गंवाये. केकेआर ने पावरप्ले के अंदर ही अंजिक्य रहाणे (सात) और कप्तान श्रेयस अय्यर (10) के विकेट गंवा दिये. ये दोनों बल्लेबाज क्रमश: टाइमल मिल्स (38 रन देकर दो) और सैम्स (50 रन देकर एक) की शार्ट पिच गेंदों पर आउट हुए. पहले छह ओवर के बाद केकेआर का स्कोर दो विकेट पर 35 रन था।जब रन गति धीमी पड़ रही थी तब बिलिंग्स ने मुरुगन अश्विन (25 रन देकर दो) पर बासिल थंपी पर छक्के लगाकर स्कोर बोर्ड को गति प्रदान की. अश्विन ने हालांकि जल्द ही उनसे बदला चुकता कर दिया लेकिन इससे पहले इस लेग स्पिनर पर वेंकटेश ने अपना पहला छक्का लगाया था. केकेआर 10 ओवर के बाद तीन विकेट पर 67 रन ही बना पाया था.

नितीश राणा (आठ) ने मिल्स पर थर्ड मैन क्षेत्र में छक्का जड़कर अपना खाता खोला, लेकिन जल्द ही अश्विन की गेंद पर मिडविकेट पर कैच दे बैठे .अब आंद्रे रसेल (11) क्रीज पर थे जिन्होंने अश्विन की गुगली को छह रन के लिये भेजा, लेकिन मिल्स ने उनके तूफान को जल्द थाम दिया। कमिन्स ने मिल्स, जसप्रीत बुमराह और सैम्स पर छक्कों की बौछार लगायी, जिससे केकेआर के प्रशंसक रसेल के आउट होने का गम भूल गये। इस बीच दूसरे छोर पर विकेट बचाये रखने वाले वेंकटेश ने 41 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया.

इससे पहले केकेआर ने उमेश यादव (25 रन देकर एक) की अगुवाई में कसी गेंदबाजी करके मुंबई पर शुरू में ही दबाव बना दिया. मुंबई ने पहले तीन ओवर में केवल सात रन बनाये और इस बीच कप्तान रोहित शर्मा का विकेट गंवाया जो 12 गेंदों पर केवल तीन रन बना पाये. उमेश की शार्ट पिच गेंद उनके बल्ले का ऊपरी किनारा लेकर हवा में लहरा गयी थी.

दक्षिण अफ्रीका के डेवाल्ड ब्रेविस (19 गेंदों पर 29) ने आईपीएल में अपने पहले शॉट से दिखाया कि आखिर उन्हें जूनियर ‘एबी’ क्यों कहा जाता है.कमिन्स और वरुण चक्रवर्ती पर लगाये गये छक्कों से उनका आत्मविश्वास साफ झलक रहा था. वह हालांकि अपनी तूफानी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाये और चक्रवर्ती पर स्वीप शॉट खेलने के प्रयास में स्टंप आउट हो गये.

मुंबई का स्कोर पहले 10 ओवर के बाद दो विकेट पर 54 था. इशान किशन (21 गेंदों पर 14) क्रीज पर थे लेकिन रन बनाने के लिये जूझ रहे थे जबकि चोट के बाद वापसी करने वाले सूर्यकुमार को सामंजस्य बिठाने में समय लगा. किशन ने कमिन्स की गेंद पर आसान कैच दिया जिससे मुंबई की परेशानियां बढ़ गयी. बीच में पांच ओवर तक गेंद सीमा रेखा तक नहीं पहुंची. सूर्यकुमार ने उमेश की आखिरी दो गेंद पर चौका और छक्का जड़कर उनका गेंदबाजी विश्लेषण बिगाड़ा. उन्होंने 34 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया.तिलक जब तीन रन पर थे तब रहाणे ने उनका कैच छोड़ा था जिसका जश्न उन्होंने लंबे शॉट खेलने के अपने कौशल का नजारा पेश करके दिया. फिर चाहे कमिन्स हो या चक्रवर्ती उनके छक्के दमदार थे. आखिर में रही सही कसर सूर्यकुमार के आउट होने के बाद क्रीज पर उतरे पोलार्ड ने पूरी कर दी.

(इनपुट ईटीवी भारत)

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe