जहांगीरपुरी सांप्रदायिक हिंसा पुलिस की सुस्ती का नतीजाः जमाअत इस्लामी हिन्द

नई दिल्ली: जहांगीरपुरी में हुए हालिया सांप्रदायिक हिंसा के तुरंत बाद जमाअत इस्लामी हिन्द के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रभावित इलाक़े का दौरा किया. इस प्रतिनिधिमंडल में जमाअत इस्लामी हिन्द के उपाध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद सलीम, सचिव मोहम्मद अहमद के अतिरिक्त जमाअत के अन्य प्रमुख अधिकारी शामिल थे.

प्रतिनिधिमंडल ने पूरे इलाक़े का दौरा किया और प्रभावित परिवारों से उनके घरों पर जाकर मुलाक़ातें कीं और सूरतेहाल की पूरी जानकारी ली. प्रतिनिधिमंडल ने मौके पर मौजूद पुलिए के उच्च अधिकारियों से भी मुलाक़ात की और हक़ीक़त से उन्हें आगाह किया.

दौरे से लौटने के बाद वफ़द ने मीडिया को जारी एक बयान में कहा कि जहांगीरपुरी में जो कुछ भी हुआ और जिस अंदाज़ में इस घटना को अंजाम दिया गया है उससे ज़ाहिर होता है कि यह कोई अचानक होने वाली घटना नहीं थी बल्कि निहायत ही मंसूबाबंद तरीके से इसे अंजाम दिया गया है.

माहौल को बिगाड़ने के लिए इस घटना से पहले दो बार जुलूस निकाले गए, फिर तीसरी बार जिस दिन यह घटना घटी इफ्तार के समय ढोल-बाजों के साथ कुछ लोग अचानक सामने आये और हंगामें के साथ हिंसात्मक उपद्रव करने लगे.

स्थानीय लोगों ने बताया कि इस भीड़ में कुछ लोगों के हाथों में हथियार भी देखे गए. प्रतिनिधिमंडल की जानकारी में यह बात भी आई कि जुलूस की इजाज़त् नहीं ली गयी थी और न ही आवश्यक पुलिस फोर्स तैनात किए गए थे ताकि कोई अप्रिय घटना की स्थिति में नियंत्रण किया जा सके.

पुलिस के रवैये पर बात करते हुए प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि अगर पुलिस अपना काम सही तरीक़े से अंजाम दी होती और जुलूस को समय रहते रोकने को अपना दायित्व पूरा करती तो यक़ीनन यह सब नहीं होता, जो हुआ.

बयान में मांग की गयी है कि पुलिस एक तरफा कार्रवाई से बचे और क़सूरवारों को जल्द से जल्द से गिरफ्तार करके उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करे.

बयान में बताया गया है कि जमाअत इस्लामी का ध्यान प्रभावित इलाके के लोगों की बुनियादी ज़रूरतों पर केंद्रीत है और वह प्रभावितों से संपर्क में है और उनकी क़ानूनी एवं अन्य ज़रूरतों को यथाशीघ्र पूरी करने की व्यवस्था कर रही है.

घटना स्थल पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए प्रोफेसर सलीम इंजीनियर ने कहा कि जहांगीरपुरी में होने वाली ये घटना अत्यंत दुखद और अफसोसनाक है और किसी योजनाबद्ध साजिश का नतीजा लगता है.

spot_img
1,711FansLike
253FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe