‘कश्मीर फाइल्स’ की तर्ज पर ‘लखीमपुर फाइल्स’ भी बननी चाहिए: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर कश्मीर पर ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म बनाई जा सकती है, तो लखीमपुर खीरी हिंसा पर ‘लखीमपुर फाइल्स’ भी बनाए जाने की जरूरत है.

सपा अध्यक्ष ने बुधवार को सीतापुर जिले में पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘आप पड़ोसी जिले से हैं, अगर ‘कश्मीर फाइल्स’ फिल्म बनती है तो कम से कम लखीमपुर फाइल्स फिल्म बननी चाहिए जहां किसानों को जीप के पहियों के नीचे कुचल दिया गया था.’

गौरतलब है कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन के दौरान तीन अक्टूबर, 2021 को लखीमपुर खीरी में हिंसा भड़क गयी थी और जीप जो केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे की बतायी जाती है, से कुचल कर चार किसान मारे गए थे.

विपक्षी दलों ने इस घटना की पारदर्शी और निष्पक्ष जांच के लिए मिश्रा के इस्तीफे की भी मांग की थी.

इस दौरान अखिलेश यादव ने हाल में संपन्न विधानसभा चुनावों के नतीजों का जिक्र करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी ने ‘नैतिक जीत’ हासिल की है और समाजवादी पार्टी बढ़ रही है जबकि भाजपा घट रही है.

इन चुनाव में राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा ने 403 में से 255 सीटें जीती है. वहीं समाजवादी पार्टी को 111 सीटें मिली हैं.

उन्होंने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी के बुनियादी मुद्दे जो युवाओं को चिंतित करते हैं वे अभी भी वहीं हैं.

इसी बीच लखनऊ-सीतापुर यात्रा के दौरान एक आवारा सांड ने काफिले को कुछ देर के लिए रोक लिया.

अखिलेश ने ट्वीट किया, ‘सफर में सांड तो मिलेंगे… जो चल साको तो चलो. बड़ा काठिन है यूपी में सफर, जो चल साको तो चलो.

उन्होंने घटना का वीडियो क्लिप भी पोस्ट किया.

(भाषा से इनपुट के साथ)

spot_img
1,717FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe