500 से अधिक रोहिंग्या शरणार्थी मलेशियाई हिरासत से भागे, अधिकांश फिर से गिरफ्तार

कुआलालंपुर: मलेशिया में बुधवार को 500 से अधिक रोहिंग्या शरणार्थी एक विरोध प्रदर्शन के बाद नजरबंदी से भाग गए, लेकिन अधिकांश को फिर से गिरफ्तार कर लिया गया.

आप्रवासन विभाग ने बताया कि 528 रोहिंग्या उत्तरी पिनांग राज्य में बने एक अस्थायी हिरासत केंद्र का ब्लॉक दरवाजा और बैरियर ग्रिल तोड़कर भाग गए. विभाग ने एक बयान में कहा कि पुलिस और अन्य एजेंसियों को तैनात किया गया है और 362 बंदियों को फिर से गिरफ्तार किया गया है.

विभाग के अधिकारी ने फरार कैदियों के बारे में अधिक जानकारी दिए बिना कहा ‘बाकी बंदियों की तलाश जारी है.’

मलेशिया, जिसमें एक प्रमुख आबादी मुस्लिमों की है, म्यांमार से भाग रहे मुस्लिम रोहिंग्या या बांग्लादेश में शरणार्थी शिविरों से बचने की कोशिश करने वालों के लिए एक पसंदीदा स्थान है.

मलेशिया शरणार्थियों को दर्जा नहीं देता है, लेकिन देश में एक लाख से अधिक रोहिंग्या और अन्य म्यांमार जातीय समूहों सहित संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त से मान्यता प्राप्त लगभग एक लाख 80 हजार शरणार्थी हैं. इसके अलावा समुद्र के रास्ते अवैध रूप से देश में पहुंचने वाले गैर-दस्तावेजी भी यहां रहते हैं.

(इनपुट पीटीआई-भाषा)

spot_img
1,711FansLike
253FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe