नो बॉल विवाद: पंत और ठाकुर पर जुर्माना, आमरे एक मैच के लिये निलंबित

मुंबई: दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत पर राजस्थान रॉयल्स के हाथों 15 रन की हार के दौरान आईपीएल आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिये शनिवार को मैच फीस का 100 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया, जबकि सहायक कोच प्रवीण आमरे को एक मैच के लिये प्रतिबंधित कर दिया गया.

इंडियन प्रीमियर लीग ने बयान में कहा कि आमरे पर उनकी पूरी मैच फीस का जुर्माना भी लगाया गया है जबकि दिल्ली के तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है.

इन तीनों पर शुक्रवार को खेले गये मैच के विवादास्पद आखिरी ओवर में उनकी भूमिका के लिये जुर्माना लगाया गया.

दिल्ली को अंतिम ओवर में जीत के लिये 36 रन की दरकार थी. ऐसे में रोवमैन पॉवेल ने ओबेद मैकॉय की पहली तीन गेंदों पर छक्के जड़ दिये थे. इनमें वह तीसरी गेंद भी शामिल थी जो फुलटॉस थी जिसे दिल्ली की टीम नोबॉल देने की मांग कर रही थी.

नॉन स्ट्राइकर छोर पर खड़े कुलदीप यादव ने अंपायर की तरफ इशारा करके आखिरी गेंद का रीप्ले देखने के लिये कहा क्योंकि वह कमर से ऊपर होने पर नोबॉल हो सकती थी. पॉवेल भी अंपायरों से बात करने लग गये लेकिन मैदानी अंपायरों ने कहा कि गेंद वैध थी.

पंत ने इसके बाद पॉवेल और कुलदीप से वापस लौटने के लिये कहा. इस बीच दिल्ली के सहायक कोच प्रवीण आमरे मैदान पर चले गये, लेकिन अंपायरों ने उन्हें वापस लौटा दिया.

पंत ने आईपीएल आचार संहिता के अनुच्छेद 2.7 के तहत लेवल दो का अपराध स्वीकार किया और उन्हें जुर्माना मंजूर है.

ठाकुर ने भी आईपीएल आचार संहिता के अनुच्छेद 2.8 के लेवल दो का अपराध और जुर्माना स्वीकार किया.

आमरे पर एक मैच का प्रतिबंध लगाया गया. उन्होंने भी आईपीएल आचार संहिता के अनुच्छेद 2.2 के तहत लेवल दो का अपराध और जुर्माना स्वीकार किया.

(इनपुट पीटीआई-भाषा)

spot_img
1,717FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe