यूपी: सड़क के किनारे नमाज़ पढ़ने पर हिंदू संगठन ने किया हंगामा, नमाजियों से कान पकड़कर मंगवाई माफी

नई दिल्ली: आजकल यूपी पुलिस नमाज पढ़ने पर तुरंत कार्रवाई करती है. देश में मुसलमान ना घर पर नामज पढ़ सकता ना ही सड़क के किनारे.

अभी हाल ही में मुरादाबाद के एक गांव में घर में नमाज पढ़ने पर पुलिस ने 26 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था. अब सड़के के किनारे नमाज पढ़ रहे 17 लोगों का पुलिस ने चालान कटा है. इतना ही नहीं बजरंग दल के लोगों ने नमाजियों से कान पकड़कर माफी तक मंगवाई.

मिल्लत टाइम्स की खबर के अनुसार, दरअसल राजस्थान से सवार होकर कुछ मुसलमान शाहजहांपुर जा रहे थे. नमाज का समय होने पर सड़क के किनारे बस रोकी और नमाज पढ़ने लगे. इस बात की खबर पुलिस को दे दी गई, जिसके बाद पुलिस ने उनका चालान काट दिया. इस घटना से जुड़ा सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें आप देख सकते हैं, कैसे नमाज पढ़ने पर मुसलमानों को परेशान किया जा रहा है.

बता दें पश्चिम बंगाल से एक बस में सवार 62 जायरीन अजमेर दरगाह जा रहे थे. बीते रविवार को जायरीनों की बस शाहजहांपुर के थाना तिलहर क्षेत्र के नेशनल हाइवे पर स्थित एक ढाबे पर रुकी. उस वक्त नमाज का समय हो गया. बस में सवार 17 जायरीनों ने नेशनल हाइवे के किनारे नमाज पढ़नी शुरू कर दी.

नमाज पढ़ने की सूचना मिलते ही विश्व हिंदू परिषद के जिला मंत्री राजेश अवस्थी अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंचकर उनका विरोध करने लगे. हिंदू संगठन के लोगों ने उनसे हाथ जोड़कर माफी मंगवाई, उठक-बैठक लगवाई और कान पकड़कर कहलवाया कि दोबारा सड़क पर नमाज अदा नहीं की जाएगी. इतना ही नहीं धमकी देते हुए कहा कि यूपी में योगी राज है, यहां सड़क पर नमाज अदा करना मना है.

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe