राहुल गांधी का बयान- बीजेपी और आरएसएस ने देश में फैलाई नफरत, भारत को जोड़ने के लिए है ‘भारत जोड़ो यात्रा’

नई दिल्ली: कांग्रेस के ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज तीसरा दिन है। राहुल गांधी समेत कांग्रेस के कई बड़े नेता भारत को जोड़ने के लिए 3570 किमी लंबी यात्रा पर निकले हैं।

इसी बीच राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी और संघ पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी और संघ की विचारधारा नफरत फैलाने वाली है और हमारी ये यात्रा बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा के खिलाफ है।

भारत जोड़ो यात्रा पर राहुल गांधी ने कहा कि हर एक व्यक्ति और संगठन की अपनी विचारधारा होती है। बीजेपी और आरएसएस की अपनी विचारधारा है, वो ठीक है। हमारे लिए यह यात्रा जनता से जुड़ने की यात्रा है। जो नुकसान बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा ने देश का किया है उसके खिलाफ यह यात्रा है।

मिल्लत टाइम्स की खबर के अनुसार, राहुल गांधी ने कहा कि नफरत के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि हज़ारों वर्षों से दो अलग-अलग दृष्टिकोणों के बीच लड़ाई चल रही है और यह जारी रहेगी। भारत के दो अलग-अलग दृष्टिकोण हैं, एक दृष्टिकोण कठोर और नियंत्रित करने वाला है जबकि दूसरा मिश्रित और खुले विचारों वाला है। ये लड़ाई जारी रहेगी।

कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी ने इस देश के सभी संस्थानों को अपने नियंत्रण में ले लिया है और उनके माध्यम से दबाव डाल रही है। आज सीबीआई और ईडी की कार्यशैली भी सवालों के घेरे में आ गई है। आपको पता है कि वे कैसे काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हम अब एक राजनीतिक दल से नहीं लड़ रहे हैं। हम सभी संस्थाओं से लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मीडिया विपक्ष के साथ नहीं है। राहुल गांधी ने कहा, बहुत सारे लोग लड़ाई नहीं लड़ना चाहते। उन्हें लगता है कि बीजेपी के साथ कहां फंसना?

इस सूची में राहुल गांधी के साथ कांग्रेस के युवा नेता कन्हैया कुमार, पवन खेड़ा और पंजाब के पूर्व मंत्री विजय इंदर सिंगला का भी नाम है। लिस्ट में युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष केशव चंद्र यादव और उत्तराखंड कांग्रेस के संचार विभाग के सचिव वैभव वालिया के अलावा कई महिला कार्यकर्ताओं के नाम भी शामिल हैं।

spot_img
1,716FansLike
249FollowersFollow
118FollowersFollow
14,300SubscribersSubscribe