छात्र संगठनों का 28 जनवरी को ‘बिहार बंद’ का ऐलान, महागठबंधन और पप्पू यादव ने की साथ देने की घोषणा

आरआरबी एनटीपीसी रिजल्ट में गड़बड़ी के खिलाफ उठे आंदोलन को और गति देने के लिए छात्र संगठनों ने कल यानी 28 जनवरी को बिहार बंद (RRB NTPC Student Bihar Bandh) का आह्वान किया है. ईटीवी भारत की खबर के अनुसार, इस बंद का पहले महागठबंधन ने समर्थन देने की बात कही है. अब जनाधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने भी खुलकर छात्रों का समर्थन किया है. छात्र और शिक्षकों पर रेलवे के द्वारा की गई कार्रवाई के खिलाफ उन्होंने आवाज उठाई है. AISA, AISF और NSUI समेत कई छात्र संगठनों ने बिहार बंद के आह्वान को समर्थन दिया है.

आरजेडी नेता जगदानंद सिंह ने महागठबंधन की ओर से छात्रों के बिहार बंद को समर्थन देने का ऐलान किया है. गुरुवार को आरजेडी प्रदेश कार्यालय में महागठबंधन की प्रेस कंफ्रेंस आयोजित की गई, जिसमें आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, सीपीआई नेता कुणाल सिंह, रामनरेश पांडे, कांग्रेस नेता राजेश राठौर सहित अन्य लोग मौजूद रहे.

सीपीआई नेता कुणाल सिंह ने साफ-साफ कहा कि जब तक छात्र को न्याय नहीं मिल जाता है, तब तक हम लोग भी सड़क पर उतरकर छात्रों की मांगों को उठाते रहेंगे. वहीं, सीपीआई के रामनरेश पांडेय ने कहा पूरा महागठबंधन छात्रों के साथ खड़ा है. उनकी मांगें जायज है. जब तक उन्हें न्याय नहीं मिल जाता है, तब तक महागठबंधन छात्रों के साथ खड़ा रहेगा.

कहा कि आरआरबी-एनटीपीसी रिजल्ट में हुई धांधली और इस मामले को लेकर प्रदर्शन कर रहे गिरफ्तार छात्रों को रिहा किया जाए. छात्र संगठनों के द्वारा बुलाए गए बिहार बंद को जन अधिकार पार्टी पूरा समर्थन देगी. उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करने के लिए कल जन अधिकार पार्टी के छात्र विंग और अन्य विंग छात्रों के समर्थन में सड़कों पर रहेंगे.

बता दें कि परीक्षा को लेकर छात्र पिछले चार दिनों से आंदोलनरत हैं. मंगलवार को आंदोलन हिंसक भी हो गया. बुधवार को गया में पैसेंजर ट्रेन की बोगियों में आग लगा दी गई. देर रात पटना में छापेमारी भी की गई.

रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने खुद मीडिया के सामने आकर छात्रों को समझाने की कोशिश की और मामले की जांच का आश्वासन भी दिया. एक कमेटी भी बनाने का ऐलान किया. इसके बाद भी छात्रों का आंदोलन जारी है.

spot_img
1,717FansLike
247FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe