पंजाब मंत्रिमंडल का गठन, आम आदमी पार्टी के 10 विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ

पंजाब में शनिवार को मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में एक महिला समेत आम आदमी पार्टी (आप) के दस विधायकों को शामिल किया गया.

राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने चंडीगढ़ स्थित पंजाब भवन में मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. इन 10 मंत्रियों में से आठ पहली बार विधायक बने हैं. इन सभी ने पंजाबी भाषा में शपथ ली.

हरपाल सिंह चीमा, हरभजन सिंह, डॉ विजय सिंगला, लाल चंद, गुरमीत सिंह मीत हेयर, कुलदीप सिंह धालीवाल, लालजीत सिंह भुल्लर, ब्रह्म शंकर जिम्पा, हरजोत सिंह बैंस और डॉ बलजीत कौर को शपथ दिलाई गई. कैबिनेट में मुख्यमंत्री सहित 18 पद हैं.


फोटो : मुख्यमंत्री भगवंत मान ट्विटर

पंजाब के राज्यपाल ने स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के पैतृक गांव खटकड़ कलां में बुधवार को भगवंत मान को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई थी.

पंजाब सरकार में शामिल एकमात्र महिला मंत्री डॉक्टर बलजीत कौर (Women Minister Baljit Kaur), मेहनती और सामाजिक रूप से समर्पित डॉक्टर रही हैं. इनके पिता 2014 में फरीदकोट आरक्षित सीट से सांसद चुने गए लेकिन 2019 में वे चुनाव हार गए. अब पार्टी ने उनकी बेटी बलजीत कौर को विधानसभा चुनाव में मौका दिया है.

विरासत में राजनीति संभालने वाली डॉक्टर बलजीत कौर (Minister Dr. Baljit Kaur) ने तीन महीने पहले अपनी नौकरी छोड़ दी थी, लेकिन इससे पहले वह 18 साल तक सरकारी डॉक्टर रही हैं. इस दौरान उन्होंने 17000 से अधिक ऑपरेशन किए हैं. समाज के प्रति इनका भाव इसी बात से समझा जा सकता है कि चुनाव प्रचार के दौरान भी वे मरीजों के इलाज के लिए अस्पताल जाती रहीं.

डॉ. बलजीत कौर ने पंजाब में कैबिनेट मंत्री बनाये जाने पर कहा कि ‘मुझे यहां तक पहुंचाने के लिए पार्टी (AAP) और पार्टी के हाईकमान का धन्यवाद!, पार्टी की ये अच्छी सोच है जो उन्होंने महिला को कैबिनेट में शामिल किया है. मुझे जो भी काम दिया जाएगा वो मैं ईमानदारी से करूंगी.’

आम आदमी पार्टी (आप) ने 117 सदस्यीय पंजाब विधानसभा में कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल (शिअद)-बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)-पंजाब लोक कांग्रेस-शिअद (संयुक्त) गठबंधन को पछाड़ते हुए 92 सीटें हासिल की हैं.

कैबिनेट में पार्टी ने मालवा से पांच, माझा से चार और दोआबा क्षेत्र से एक विधायक को प्रतिनिधित्व दिया. कैबिनेट में चार उन विधायकों को जगह दी गई है जो सुरक्षित सीटों दीर्बा, जंडियाला, मलोट और भोआ का प्रतिनिधित्व करते हैं. हालांकि, कांग्रेस के चरणजीत सिंह चन्नी, नवजोत सिंह सिद्धू, शिअद के प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर सिंह बादल तथा पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह आदि दिग्गजों को हराने वाले आप विधायकों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली. मान ने उन विधायकों के नामों की घोषणा की थी जिन्हें शुक्रवार को कैबिनेट में शामिल किया जाना था.

(पीटीआई भाषा से इनपुट के साथ)

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe