‘सत्ता के नशे में ग़रीबों के आशियाने उजाड़ रहे हो, आज आपकी सरकार है, कल नहीं होगी:’ असदुद्दीन ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने देश के विभिन्न राज्यों में जारी हिंसा को लेकर राज्य सरकारों पर आरोप लगते हुए कहा कि ‘मध्य प्रदेश, गुजरात, गोवा, कर्नाटक में जो भी हुआ, वहां की सरकारों की रज़ामंदी से किया गया. मध्य प्रदेश में घर-दुकाने जलाई गई, किस कानून के तहत ये किया गया आप कानून बताइये. आस्था है तो आप सबसे पहले जो मांस बाहरी देशों में निर्यात होता है वो बैन कीजिए.’

उन्होंने कहा कि ‘आप मांस के निर्यात को बैन नहीं करेंगे क्योंकि आपको डॉलर मिलता है और वो व्यक्ति जो दिन में 100-200 रूपए कमाता है आप उसके कारोबार को बंद कराते हैं.’

मध्य प्रदेश के खरगोन में जो हिंसा हुई और उसके बाद मुसलमानों के घरों और दुकानों पर बुलडोज़र चलाया गया उसको लेकर कहा कि ‘सत्ता के नशे में शरसार होकर और क़ानून को बलाए-ताक़ रख कर जो आप ग़रीबों के आशियाने उजाड़ रहे हो, याद रखो! आज सरकार आपकी है, कल नहीं होगी.’

उन्होंने आगे कहा कि ‘म.प्र में, मंसूबा-बंद तरीक़े से क़ानून के शासन पर भीड़तंत्र हावी हो चुका है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भले ही आपकी विचारधारा मस्जिदों को नापाक करने और बुजुर्गों पर हमले को सही ठहराती हो लेकिन ये न भूलें कि आप संवैधानिक पद पर बैठे हैं, जनता की जान व माल की सुरक्षा आपकी ज़िम्मेदारी है.’

उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट रूप से एक राज्य सरकार की मिलीभगत हिंसा है और जेनेवा कन्वेंशन का गंभीर उल्लंघन है. मध्य प्रदेश सरकार ने किस कानून के तहत मुस्लिम समुदाय के घरों को ध्वस्त कर दिया है? यह स्पष्ट रूप से मुस्लिम अल्पसंख्यक के प्रति मुख्यमंत्री के पक्षपातपूर्ण रवैये को दर्शाता है.’

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ‘राम नवमी जुलूस के दौरान हिंसा को नियंत्रित करने और रोकने में राजस्थान, मध्य प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक और गोवा की सरकारें विफल रहीं.’

spot_img
1,717FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe