अख्तरुल इमान का चक्का जाम करने की अपील, कहा- सीमांचल के साथ भेदभाव बर्दाश्त नहीं करेंगे

बिहार में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के विधायक और नेता अख्तरुल इमान ने सीमांचल के नागरिकों से चक्का जाम करने की अपील की है और कहा कि सीमांचल के साथ भेदभाव बर्दाश्त नहीं करेंगे.

उन्होंने ट्वीट किया कि ‘हम सीमांचल के नागरिकों से चक्का जाम के लिए तैयार होने का अनुरोध करते हैं. हम अब सीमांचल के साथ भेदभाव बर्दाश्त नहीं करेंगे.’

बता दें कि बिहार विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है. सीमांचल में कटाव, बाढ़ से निजात और अन्य समस्याओं को लेकर बुधवार को एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने कार्य स्थगन दिया था लेकिन विधानसभा अध्यक्ष ने उसे अस्वीकृत कर दिया. इससे नाराज अख्तरुल इमान वेल में पहुंचकर धरने पर बैठ गए. विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने बार-बार वेल में आने पर नाराजगी जताई और मार्शल को बाहर निकालने का आदेश दिया.

विधानसभा अध्यक्ष के आदेश के बाद मार्शल ने अख्तरुल इमान को उठाकर बाहर निकाल दिया. इससे अख्तरुल इमान और एआईएमआईएम के सभी विधायक नाराज होकर धरने पर बैठ गए. विधानसभा पोर्टिको में धरना देते हुए अख्तरुल इमान ने कहा कि हम लोग तो सीमांचल की समस्या को उठा रहे थे लेकिन सरकार हम लोगों की समस्या सुन नहीं रही है और मार्शल से बाहर निकाल दिया जा रहा है. हम लोग उसी के विरोध में धरना दे रहे हैं.

अख्तरुल इमान ने कहा कि ‘सीमांचल में सबसे ज्यादा भीषण कटाव है, सबसे घनी नदियां हैं और हर साल हजारों लोग विस्थापित हो रहे हैं. 2016 से लेकर अभी तक जो लोग विस्थापित हुए हैं उनकी कहीं नहीं सुनी गई है. हर साल सैंकड़ों लोग डूब कर मर रहे हैं. इस वक्त भी हमारे यहां दर्जनों बस्तियां कटाव की जद में हैं और हुकूमत को उनकी जरा सी भी चिंता नहीं है. हमलोग सदन में इसको लेकर कार्यस्थगन लेकर आए. लेकिन सदन में हमारी पीड़ा नहीं सुनी गई. हम लोगों को सदन से मार्शल आउट किया गया है. हम अपनी पीड़ा सुनाने के लिए वेल में नहीं जाएंगे तो कहां जाएंगे.’

इससे पहले मंगलवार को भी अख्तरुल इमान को लेकर विधानसभा अध्यक्ष ने अपनी नाराजगी जाहिर की थी. बजट सत्र के 20वें दिन एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने सदन में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं होने का मामला उठाया.

सदन में अख्तरुल इमान ने कहा कि हर जगह मास्क और सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए कहा जाता है. जबकि विधानसभा में ही इसका पालन नहीं हो रहा है. यह डुअल करैक्टर है. एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान के डुअल कैरेक्टर बोले जाने से विधानसभा अध्यक्ष नाराज हो गये. उन्होंने एआईएमआईएम के विधायक से पूछा, आपने मास्क क्यों नहीं लगाया? उन्होंने विधायक अख्तरुल इमान को आगे से सदन में शालीनता से बात रखने के लिए कहा. इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष उनके बयान को सदन की कार्यवाही से निकालने का आदेश दे दिया था.

spot_img
1,713FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe