ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के प्रमुख उमेर अहमद इलियासी को वाई-श्रेणी की सुरक्षा, मिली थी जानलेवा धमकी

नई दिल्ली: जान से मारने की धमकी मिलने के बाद केंद्र सरकार ने ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के प्रमुख उमेर अहमद इलियासी को सरकार ने वाई-श्रेणी की सुरक्षा दी है.

आवाज द वॉयस की खबर के मुताबिक़, इमाम उमेर अहमद इलियासी इमाम संगठन का वैश्विक चेहरा है और धर्म, आध्यात्मिकता और अंतरधार्मिक संवाद के सभी अंतरराष्ट्रीय मंचों पर इसका प्रतिनिधित्व करते हैं.

इलियासी ने आरोप लगाया है कि सितंबर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से मिलने और उन्हें राष्ट्रपिता कहने के बाद उन्हें यूके के नंबरों से जान से मारने की धमकी मिलने लगी थी. भागवत पिछले महीने इलियासी से उनके घर पर मिले थे.

इलियासी से मिलने वालों में आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारी कृष्णगोपाल, रामलाल और इंद्रेश कुमार शामिल थे.

इलियासी ने बाद में मीडिया को बताया कि मुलाकात पूरी तरह से निजी थी. भागवत जी राष्ट्रपिता और राष्ट्र के ऋषि हैं. वह मेरे घर आए, यह सम्मान की बात है.

वहीं आरएसएस की ओर से बैठक को लेकर कहा गया कि संगठन उमेर अहमद इलियासी से लगातार बात करता रहता है. उनके पिता से भी आरएसएस के पूर्व प्रमुख कुसी सुदर्शन ने मुलाकातें की थीं. लोगों से मिलना आरएसएस के दैनिक कार्य का हिस्सा है.

अखिल भारतीय इमाम संगठन अपने आप को भारत के इमामों की वैध आवाज है, जो 20 करोड़ भारतीय मुसलमानों के धार्मिक और आध्यात्मिक मार्गदर्शक हैं. यह दुनिया का सबसे बड़ा इमाम संगठन है और इसे इतना विशिष्ट स्थान दिया गया है कि जीवन के सभी क्षेत्रों से संबंधित प्रमुख राष्ट्रीय और वैश्विक निकाय इसकी सेवाओं का उपयोग करते हैं.

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe