रूस-यूक्रेन युद्ध का सातवां दिन: यूक्रेन के खारकीव शहर में रूसी हमले जारी, 21 लोगों की मौत

यूक्रेन के खारकीव में शक्तिशाली बम विस्फोट की आवाज लगातार सुनाई दे रही हैं. मिसाइल और बम धमाकों की आवाज इलाके की सन्नाटे को और भी भयानक बना दिया है. कई इमारतों में आग लग गई है. सड़कें मलबों में तब्दील हो चुकी हैं.

बता दें कि रूसी सेना ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव के मुख्य चौराहे फ्रीडम स्क्वेयर (freedom square) तथा अन्य असैन्य ठिकानों पर हमला किया जिससे पूरा शहर थर्रा उठा. खारकीव में रूस के सैनिक दाखिल हो गए हैं.

बता दें कि रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव के और करीब पहुंच गई है तथा करीब 40 मील के काफिले में रूस के टैंक और अन्य सैन्य वाहन कूच कर रहे हैं. सूर्योदय के कुछ ही समय बाद, एक रूसी सैन्य हमले में यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर के केंद्र पर हमला किया गया जिससे प्रतीकात्मक सोवियत-युग के क्षेत्रीय प्रशासन भवन को बुरी तरह नुकसान पहुंचा. यूक्रेन की सरकारी आपात स्थिति सेवा ने बताया कि टीवी टॉवर पर हमलों में पांच लोगों की मौत हो गयी तथा पांच अन्य घायल हो गए हैं.

क्लोज-सर्किट टेलीविजन फुटेज में इमारत के सामने सड़क पर आग का एक गोला दिखाई दिया जहां कुछ कार धुएं से बाहर निकलती दिखीं. यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो सका कि किस प्रकार के हथियार का इस्तेमाल किया गया या कितने लोग मारे गए, लेकिन यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर ज़ेलेंस्की ने कहा कि दर्जनों लोग हताहत हुए हैं. रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव के और करीब पहुंच गई है तथा करीब 40 मील के काफिले में रूस के टैंक और अन्य सैन्य वाहन कूच कर रहे हैं.

लड़ाई से मरने वालों की कुल संख्या स्पष्ट नहीं है, लेकिन यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की के अनुसार, अब तक 6,000 से अधिक रूसी सैनिकों को मार दिया गया है. क्रेमलिन के कठिन आर्थिक प्रतिबंधों के चलते अलग-थलग पड़ने के बीच रूसी सैनिक युद्ध के छठे दिन यूक्रेन के दो सबसे बड़े शहरों की ओर बढ़ गए. रूस के इस हमले ने 21वीं सदी की विश्व व्यवस्था को झकझोर दिया है.

शहरों पर हमले के अलावा, ऐसी खबरें सामने आई हैं कि मॉस्को ने आबादी वाले तीन क्षेत्रों पर क्लस्टर बमों का इस्तेमाल किया है. क्रेमलिन ने मंगलवार को इस बात से इनकार किया कि उसने इस तरह के हथियारों का इस्तेमाल किया है और फिर से जोर देकर कहा है कि उसके बलों ने केवल सैन्य ठिकानों पर हमला किया. हालांकि, घरों, स्कूलों और अस्पतालों पर बमबारी की कई तस्वीरें सामने आई हैं.

ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो में लगभग 15 लाख की आबादी वाले रणनीतिक खारकीव में क्षेत्र के सोवियत-युग के प्रशासनिक भवनों और आवासीय क्षेत्रों में विस्फोट होते दिखाई दिए. वहीं, यूक्रेन की संसद के अनुसार, राजधानी कीव में एक टीवी टॉवर को निशाना बनाया गया जिसने इसके चारों ओर धुएं के गुबार की एक तस्वीर पोस्ट की. स्थानीय मीडिया ने बताया कि कई विस्फोट हुए और कुछ ही समय बाद यूक्रेन के टीवी चैनलों ने प्रसारण बंद कर दिया.

वहीं, यूक्रेन के खारकीव शहर के गवर्नर का दावा है कि इन हवाई हमलों में 21 लोगों की मौत हुई है, वहीं 112 घायल हैं. इसके अलावा खारकीव में ही स्थित मिलिट्री अकेडमी पर भी रॉकेट से हमला हुआ था. वहां पिछले 9 घंटे से आग नहीं बुझ पाई है. यूक्रेन के गृह मंत्रालय के सलाहकार की तरफ से एक वीडियो भी जारी किया गया है. उनके मुताबिक, इस वीडियो में दिखाया गया है कि किस तरह वहां पुलिस विभाग की बिल्डिंग पर रूसी हमला हुआ.

यूक्रेन के विदेश मंत्रालय की तरफ से एक ट्वीट किया गया है. इसमें लिखा है कि रूसी सेना ने Zhytomyr में मौजूद प्रसूति गृह को तबाह कर दिया है. लिखा गया है कि अगर यह नरसंहार नहीं है तो क्या होगा?.

(ईटीवी भारत से इनपुट के साथ)
spot_img
1,717FansLike
247FollowersFollow
118FollowersFollow
14,200SubscribersSubscribe