भारत-ऑस्ट्रेलिया साझेदारी में रक्षा और सुरक्षा प्रमुख स्तंभ: विदेश मंत्री जयशंकर

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को क्वाड के विदेश मंत्रियों की एक महत्वपूर्ण बैठक से पहले ऑस्ट्रेलियाई रक्षा मंत्री पीटर डटन के साथ बातचीत की और कहा कि रक्षा और सुरक्षा भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साझेदारी के प्रमुख स्तंभ हैं.

जयशंकर विदेश मंत्री के रूप में ऑस्ट्रेलिया के अपने पहले दौरे पर आए हैं. वह क्वाड बैठक में भाग लेने के अलावा 12 फरवरी को ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिस पायने के साथ भारत-ऑस्ट्रेलिया विदेश मंत्रियों की 12वीं रूपरेखा वार्ता की सह-अध्यक्षता करेंगे.

जयशंकर ने एक ट्वीट में कहा, ‘दिन की शुरुआत रक्षा मंत्री पीटर डटन से मुलाकात के साथ हुई. हमने पिछले साल ‘टू प्लस टू’ चर्चा को आगे बढ़ाया.’

उन्होंने कहा, ‘रक्षा और सुरक्षा भारत-ऑस्ट्रेलिया साझेदारी के प्रमुख स्तंभ हैं.’

जयशंकर और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिछले साल नयी दिल्ली में अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्षों मारिस पायने और पीटर डटन के साथ ‘टू-प्लस-टू’ वार्ता की थी.

रणनीतिक क्षेत्र में चीन की बढ़ती सैन्य आक्रामकता के बीच वार्ता का उद्देश्य हिंद-प्रशांत क्षेत्र समेत विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को और बढ़ाना था. हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए क्वाड सदस्य देशों द्वारा नए सिरे से किए गए प्रयासों के बीच विदेश और रक्षा मंत्रीस्तरीय वार्ता हुई थी. भारत और ऑस्ट्रेलिया के अलावा, क्वाड में अमेरिका और जापान शामिल हैं.

पिछले कुछ वर्षों में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रक्षा और सैन्य सहयोग में वृद्धि हुई है. जून 2020 में भारत और ऑस्ट्रेलिया ने अपने संबंधों को एक व्यापक रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष स्कॉट मॉरिसन के बीच ऑनलाइन शिखर सम्मेलन के दौरान साजो सामान की मदद के लिए सैन्य अड्डों तक पारस्परिक पहुंच को लेकर एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए.

(इनपुट) पीटीआई-भाषा

spot_img
1,711FansLike
253FollowersFollow
118FollowersFollow
14,500SubscribersSubscribe