मोदी सरकार का मतलब सिर्फ ‘पीआर’: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार के पास बेरोजगारी, महंगाई और यूक्रेन में फंसे छात्रों को वापस लाने को लेकर कोई योजना नहीं है क्योंकि इस सरकार का मतलब सिर्फ ‘पीआर’ है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘रुपया अपने सबसे न्यूनतम स्तर पर है, रिकॉर्ड बेरोजगारी और महंगाई है, यूक्रेन में छात्र फंसे हुए हैं, चीन हमारे क्षेत्र पर कब्जा कर रहा है, इनको लेकर भारत सरकार के पास कोई योजना नहीं है.’

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार का मतलब सिर्फ ‘पीआर’ है.

वहीं, एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि फटाफट पेट्रोल टैंक फुल करवा लीजिए. मोदी सरकार का ‘चुनावी’ ऑफर ख़त्म होने जा रहा है. दरअसल पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतों को लेकर विपक्ष बराबर सरकार पर निशाना साधता रहा है. राहुल गांधी ने ट्वीट के जरिए सरकार पर निशाना साधा था.

एक तरफ रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते कच्चे तेल की कीमत लगातार उछाल दर्ज कर रही है. सोमवार 7 मार्च, 2022 को तड़के सुबह ग्लोबल बाजार में ब्रेंट क्रूड की कीमत 130 डॉलर के पार पहुंच गईं. रूस पर यूरोपीय यूनियन और नाटो देशों के प्रतिबंध के कारण क्रूड ऑयल की कीमत और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है. जिसके चलते देश में पेट्रोल-डीजल के दाम कभी भी बढ़ सकते हैं.

बता दें कि उत्तर प्रदेश में सातवें और अंतिम चरण का मतदान आज ख़त्म हो गया है और चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आने हैं.

(पीटीआई भाषा से इनपुट के साथ)

spot_img
1,712FansLike
248FollowersFollow
118FollowersFollow
14,400SubscribersSubscribe